ग़म ए रूख़्सती मिली तुझसे रुख़्सत होके dard shayari,

ग़म ए रूख़्सती मिली तुझसे रुख़्सत होके dard shayari,

0
1407
ग़म ए रूख़्सती मिली तुझसे रुख़्सत होके dard shayari,
ग़म ए रूख़्सती मिली तुझसे रुख़्सत होके dard shayari,

ग़म ए रूख़्सती मिली तुझसे रुख़्सत होके dard shayari,

ग़म ए रूख़्सती मिली तुझसे रुख़्सत होके ,

इस कदर मेरे ज़मीर पर बोझ बन पड़ी थी मोहब्बत तेरी ।

 

कभी फुर्सत मिले तो मेरे कूचे का भी रुख़ कर लेना ,

गली के नुक्कड़ में मिलेंगे हम आज भी दिल सुलगाये हुए ।

 

तक़ल्लुफ़ न तू कर कोई ज़हमत तू न उठा ,

नखरे उठाये हैं हमने शब् ए माहताब के दीदा ए यार हो तो उठा लेंगे मुखड़ा तेरा।

 

अफ्सुर्दा हुआ अबसार से टपका नहीं आंसू ,

रुख़्सत तेरी दिल का डाबर सुखा गयी ।

 

जाने क्यों ज़माना शैदाई बना है इश्क़ वालों के लिए ,

गोया हमने बाद ए रुख़्सत के आँसू बहाते देखा है लोगों को ।

sad poetry in urdu 

रुख़्सत ए यार बेसबब न रहा ,

कुछ खूँ में गड़बड़ी कुछ ज़माने के थे पेचीदा मिजाज़

 

दिलों की ख़ुशफ़हमी भी जाते जाते ही जाती है ,

गोया ग़लतफहमी सी ये ख़ुशनशीब नहीं ।

 

आक़िल हुयी रुख़्सत तेरे आगोश में आके ,

अज़रदाह हुआ मन तुझसे रुख़्सत होके ।

 

दुल्हन बन डोली चढ़ ससुराल चली ,

रुख़्सत का वक़्त आ गया बचपन को अलविदा कह दो ।

 

बड़ी बेरुख़ी से रूख़्सती की हमने मोहब्बतों की ,

अभी तन्हा खड़े हैं लाख मोहब्बतों को रुख़्सत करके ।

 

हर एक आशिक़ का हाल एक सा निकला ,

कहीं क़फ़न में लिपटी लाश कोई सर पर बांधे क़फ़न निकला ।

 

आईने को दोष दूं या तक़दीर से करूँ गिला ,

कुछ लोग शैदाई मिले कुछ वो था बेवफ़ा ।

 

फजूलखर्ची है इश्क़ दिल की महज़ कुछ भी नहीं ,

दो चार सिक्कों सी खनकती यादें हो खलीसे में और कुछ भी नहीं ।

 

ये जीना भी कोई जीना है बस यादों का बवंडर है ,

न दूर तलक साहिल बस मौज ए समंदर है ।

 

यहाँ भी आख़िर याद आ ही गयी उसकी ,

कमबख्त लाख इश्क़ से तौबा करने के बाद ।

 2line attitude shayari

इश्क़ का बादल हूँ दिल जो फटा तो तबाही मचा जाऊँगा ,

ग़रूर प्यास का छोड़ दे रूह भी पानी में डुबा जाऊँगा ।

pix taken by google

Download Best WordPress Themes Free Download
Download WordPress Themes
Download WordPress Themes
Free Download WordPress Themes
free download udemy paid course
download karbonn firmware
Download Premium WordPress Themes Free
free online course

NO COMMENTS