horror love story in hindi revenge of angel ,

1
314
horror love story in hindi revenge of angel ,
horror love story in hindi revenge of angel ,

horror love story in hindi revenge of angel ,

जवानी जानेमन हसीन दिलरुबा मिले दो दिल जवाँ निसार हो गया । पब में गाना बज रहा है , डांस फ्लोर पर अर्धनग्न पोशाक में नर्तकियां थिरक रही हैं , कुछ मनचले लड़के नर्तकियों के साथ अश्लीलता पर उतारू हो जाते हैं तभी कैमरा ज़ूम इन होता हुआ पब के केबिन पर जाता है , जहां दो अधेड़ हसीनाएं हुक्का गुड़गुड़ा रही है वो दोनों कोई और नहीं फ़ैज़ीना और समरीन है , उनका आदेश पाते ही दो चुड़ैलनुमा लडकियां बालकनी से सीधा जम्प मार कर डांस फ्लोर पर आती हैं , और उन लड़कों को घसीटती हुयी पब के बाहर ले जाकर फेंक देती है , और पब के अंदर चली जाती है , दोनों लड़के खड़े हो जाते हैं और फ… यू गन्दी गन्दी गालियां देते हैं , तभी माहौल अचानक शांत हो जाता है , दो लेडी बाउंसर आती हैं और उन दोनों लड़कों को मुँह में एक एक पंच जमा देती हैं जिससे उनका चेहरा लहूलुहान हो जाता है , और उन दोनों को घसीटती हुयी पब के पीछे वाले जंकयार्ड में ले जाकर डाल देती हैं , उनके वापस लौटते ही सारा का सारा जंकयार्ड उन दोनों लड़कों की चीख से गूँज उठता है और एक बार फिर कैमरा पब के अंदर ज़ूम इन होता हुआ पहुंच जाता है , और गाना बजने लगता है जवानी जानेमन हसीन दिलरुबा मिले दो दिल जवाँ निसार हो गया ।

cut to ,

इंसानी दुनिया का वो हिस्सा जहां नफरतों के बीच मोहब्बत अब भी ज़िंदा थी इसी की ताज़ा मिसाल थी गेब्रियल और माइकल की मोहब्बत , वक़्त के साथ दोनों की मोहब्बत परवान चढ़ती गयी और गेब्रियल ने एक खूबसूरत बेटी को जन्म दिया जिसका नाम था शकीना , जिसके लिए इंसानी दुनिया और फरिस्तों की दुनिया में जंग छिड़ गयी दोनों दुनिया के बासिन्दे शकीना पर अपना हक़ समझते थे , मगर कुदरत को कुछ और ही मंज़ूर था , चुड़ैलों की महरानी फ़ैज़ीना और समरीन एक रात जब गेब्रियल और माइकल सो रहे थे , तब दोनों चुड़ैलों ने मिलकर शकीना को चुरा लिया , शकीना को चुराने का उनका मक़सद था अपनी शैतानी शक्ति को बढ़ाना एक एंजेल और इंसान के खून से बनी थी शकीना , जिसे हरा पाना किसी के बस में नहीं था , और उसकी ग़ज़ब की खूबसूरती सोने पर सुहागा का काम करती थी लाखों दीवाने थे शकीना के हुश्न के मगर वो अभी शैतानी जालसाज़ी से अनजान थी ,

Josh shayari,

story in flashback ,

शकीना आफताब की मौत से आहत होकर खुद के पंख जला लेती है , और उसी के साथ फ़ैज़ीना और समरीन का क्लब भी जल के ख़ाक हो जाता है , फ़ैज़ीना और समरीन को उनकी दास दासियाँ वहां से निकाल कर ले जाती हैं , उस आग में एंजेलिना और नौरीन जलकर ख़ाक हो जाती हैं , फ़ैज़ीना और समरीन की भी हालत ठीक नहीं थी अब उनके पास परी लोक की शक्ति शकीना नहीं थी , जिसके कारण एक लम्बी शल्य चिकित्सा के बाद दोनों ठीक हो जाती हैं , मगर अब उनमे वो हसीन नज़ाक़त नहीं थी , इधर आग लगने के दौरान फरिश्तों की दुनिया से खुद शकीना की माँ गेब्रियल उसे बचाने के लिए आती है , शकीना की मौत से जूझते होते आफताब के लिए प्यार की तड़प देखकर गेब्रियल दोनों को अपने साथ ले जाती है , और बचे हुए इंसानी लाशों में तब्दील नौजवानो को माइकेल इंसानी हस्पताल में ले जाकर दाखिल करवा देता है , आफताब का दिल जिस्म से निकल चुका था मगर अभी वो धड़क रहा था , गेब्रियल और अन्य परियां मिलकर एक मामूली से ऑपरेशन के बाद आफ़ताब का दिल फिर से उसकी यथावत जगह में फिट कर देती हैं , और बखूबी दिल काम करने लग जाता है , इधर काफी देर हो जाने की वजह से रोहित रोहन और अन्य नौजवानो के दिल ज़्यादा वक़्त गुज़र जाने की वजह से पुनः जिस्म में प्रत्यारोपित नहीं किये जा सके जिसकी वजह से उनके जिस्म में आधुनिक चिकित्सा पद्धति के माध्यम से कृत्तिम दिल प्रत्यारोपित कर दिए जाते हैं , उनमे खून का संचार बराबर होता है , धड़कते भी बराबर हैं मगर मानवीय संवेदनाओं का उनपर कोई असर नहीं होता है , अपनी पुरानी शिकस्त से बौखलाई फ़ैज़ीना और समरीन ने एक नया जाल बिछाया था ,

cut to ,

जॉगर्स पार्क कुछ नए कपल्स के साथ राज और आर्या की गेट के अंदर एंट्री होती है , दोनों जॉगिंग कर रहे हैं , तभी खूबसरत हसीनाओं का एक झुण्ड सामने से आँख मार कर हाय गाइज़ बोलता हुआ वहाँ से गुज़रता है राज़ और आर्या भी उनके पीछे हो लेते हैं , धीरे धीरे वो दोनों भी गर्ल्स के ग्रुप में घुल मिल जाते हैं वाट्स अप्प नंबर का आदान प्रदान होता है , दोनों सोशल साइट्स में भी जुड़ जाते हैं , देर रात चैटिंग का दौर सुरु हो जाता है धीरे धीरे फोन सेक्स उसके बाद डेटिंग दोस्ती मोहब्बत में तब्दील हो जाती है किसी को पता भी नहीं चलता है , इधर रोहन और रोहित भी पूरी तरह से ठीक हो चुके थे , बस उनके सीने में धड़कने वाला दिल कृत्तिम था , रोहन और रोहित भी जॉगर्स पार्क में पहुंच जाते हैं , वहीँ वो एक गुलमोहर के पेड़ के नीचे एक लड़के को नशे की हालत में अपनी गर्ल फ्रेंड के साथ बात करते हुए देखते हैं जो कह रहा था , की अगर तुम नहीं मिली तो मैं जान दे दूंगा प्लीज़ देखो तुम इस तरह से मेरा दिल तोड़ कर नहीं जा सकती हो उस लड़के की हालत देखकर रोहन कहता है यार यहां की हालत तो दिन प्रतिदिन बिगड़ती जा रही है बड़ा ग़म इस इश्क़ के मारे को ऊपर से ड्रग्स का नशा कितने दिन जी पायेगा बेचारा , ये बोलते हुए रोहन और रोहित फिर दौड़ने लग जाते हैं ,

ishq mohabbat shayari,

सामने का दृश्य और अधिक भयावह था , एक टीनेज लड़की जिसकी उम्र १६ साल से भी कम थी जो ड्रग्स के नशे में मस्त थी , उसके साथ कुछ और टीनेजर्स लडकियां थी , जो चार छह हट्टे कट्टे मुस्टंडों के साथ ड्रग्स पार्टी एन्जॉय कर रही थी , जिनमे से एक लड़की का नाम है शालू जो अन्य लड़कियों की सरगना है , वो एक लड़के के काँधे में हाँथ रखते हुए कहती है संजना को कहती है यार आज के माल में दम नहीं था , पैसा भी चला गया मज़ा भी नहीं आया , और संजना की तरफ इशारा करती हुयी बोलती है , दो कॉफी बोलना वेटर को , और लड़खड़ाती हुयी ज़बान में बोलती है , तुझे पता है ये पैसा कैसे आता है पुड़िया लाने के लिए नंबर दो का काम करना पड़ता है , मतलब गन्दा काम करना पड़ता है साला , माँ के पर्स से चुराया था मैंने पैसे अगर उसने ये बात डैड को बता दी तो अब रात में तगड़ी मरम्मत होगी मेरी , पहले दोनों लड़ते हैं फिर दोनों अपना अपना गुस्सा मुझ पर निकालते हैं साले , रोहित और रोहन चुप चाप उन सब की बातें सुन रहे हैं तभी रोहित १०० डायल कर देता है पुलिस की गाडी के सायरन सुनते ही सबके सब भाग खड़े होते हैं वहाँ से , रोहन रोहित को आगे बढ़ने का इशारा करता है , अँधेरा बढ़ रहा था अभी वो पार्क में थोड़ा आगे ही बढे थे झाड़ियों की तरफ से खड़खड़ाने की आहट सुनायी देती है , रोहित और रोहन दबे पाँव आगे बढ़ते हैं , मगर सामने एक लड़की झड़ियों में किसी नौजवान की गर्दन में दांत गड़ाए दिखती है , दोनों को लगता है दोनों एक दूसरे को किश कर रहे थे , मगर लड़की की नज़र जैसे ही रोहित और रोहन पर पड़ती है वो दांत दिखाकर दोनों को डराने की कोशिश करती है , रोहित और रोहन उसके दांतों में खून में देखकर समझ जाते हैं की हो न हो ये सब कारस्तानी फ़ैज़ीना और समरीन की करी हुयी हैं , वो वहाँ से निकल जाने में ही अपनी भलाई समझते हैं । दूसरे दिन सिटी चैनल में शहर में ग़ायब हो रहे नौजवानो के ड्रग्स सप्लाई के पीछे विदेशी ताक़तों के हाँथ होने खबर दिन भर चलती है , और साथ ही जॉगर्स पार्क के आस पास पाए गए नरकंकाल की खबर से चारों तरफ़ सन्नाटे का माहौल बना हुआ था , रोहित और रोहन रोज़ की भाँती आज फिर जॉगर्स पार्क की तरफ़ जाते हैं मगर पुलिस ने वहाँ कर्फ्यू लगा रखा है , फिर भी रोहित और रोहन बॉउंड्री फांदकर पार्क के अंदर घुस जाते हैं , और उस जगह पहुंच जाते हैं जहां पिछली रात को एक लड़की इंसानी मांस खा रही थी , मगर आज वहाँ कुछ नहीं था ,

cut to ,

इधर राज और आर्या अपनी अपनी गर्ल फ्रेंड्स के साथ पब में पार्टी एन्जॉय कर रहे हैं जाम का दौर बेहिसाब चल रहा है , पब में सभी तरह के लोग हैं जुए शराब से लेकर ड्रग डीलिंग तक सब कुछ होता है पब में ,सैटरडे नाईट क्लब में कपल्स की फ्री एंट्री रहती है , डांस फ्लोर में लड़कियों के जिस्म के साथ लड़कों के जिस्म भी थिरक रहे हैं शर्म ओ हया को लगता है घोलकर पी गए हैं सबके सब , तभी राज़ का फोन बजता है वो कॉल रिसीव करने के लिए पब के बाहर निकलता है , फोन घर से था , राज घर वालों को बहाना बता देता है की थोड़ी देर बाद आता हूँ अभी तो बस १ बजे हैं और बात करते करते वो पब के पीछे वाली गली में चला जाता है , अभी राज़ ने कुछ कदम ही बढाए थे की उसे सामने जंकयार्ड में लाइट जलती हुयी दिखाई देती है , उसकी उत्सुकता बढ़ती है , वो जंकयार्ड का दरवाज़ा खोलता है , और चुप चाप अंदर घुस जाता है , और वहाँ का नज़ारा देखकर स्तब्ध रह जाता है , सामने आरा मशीन से कुछ औरतें इंसानो के जिस्म के टुकड़ों को काटकर जानवरों के मांस के साथ मिक्स कर रही थी ,

तभी राज़ का शरीर एक डिब्बे से टकराता है और हड़बड़ाहट में वो वहाँ से भागने लगता है , और जैसे ही गेट के बाहर निकलता है , सामने से चार छह लेडी बाउंसर उसे मारते हुए फिर से जंकयार्ड के गेट के अंदर डाल देती हैं , और इसके बाद दो औरते हाँथ में आरा मशीन लिए हुए आगे बढ़ती है , उसे टेबल में लिटा दिया जाता है , और टेबल में लगे क्लैम्प्स में कसके जकड़ दिया है सबसे पहले उसके दोनों हाँथ काटे जाते हैं उसके मुँह से चीख न निकले इस लिए उसके मुँह में सूअर के मांस का एक टुकड़ा पहले ही ठूस दिया जाता है , उसकी चीख उसके मुँह के अंदर ही दब कर रह जाती है सारा टेबल राज़ के खून से भर जाता है, जो की एल्युमीनियम का ट्रे नुमा बना हुआ है उसका बहता हुआ खून एक बाल्टी में इकठा होता है और एक कसाई उस ब्लड को सामने रखे ड्रम में स्टोर करती है जो की आगे जाकर रेड वाइन बनाने में काम आता है ,

राज़ को पब में न पाकर आर्या घबरा जाता है , वो उसे कॉल लगाने की कोशिश करता है मगर कोई कॉल नहीं उठाता है , राहुल उसे पब के अंदर बाहर चारों तरफ ढूढ़ता है , मगर राज़ का कहीं कोई पता नहीं चलता है , वो पब के पीछे भी जाता है मगर वहाँ घोर सन्नाटा पसरा पाकर लौट आता है आस पास के लोगों से पूछता है मगर हर व्यक्ति का जवाब न मिलता है , आखिर थक हार कर वो अपने और दोस्तों के साथ घर चला जाता है , पुलिस में कंप्लेंट की गुमसुदगी के फेहरिश्त में एक नाम का और इज़ाफ़ा हो जाता है , शहर में ग़ायब हो रहे नौजवानो की खबर से सारा प्रशासन परेशान है इधर नौजवानो की गुमसुदगी की खबर गेब्रियल और माइकल तक पहुँचती है , और उन्हें ये भी पता था की शहर भर में बढ़ रहे अपराधों के पीछे किसका हाँथ है , शकीना और आफताब अब पूरी तरह स्वस्थ हो चुके थे , लेकिन फ़ैज़ीना और समरीन से बदले की आग अभी भी उनके दिल में धधक रही थी , शकीना को आज भी वो खौफनाक मंज़र चैन से सोने नहीं देता है , उस भयानक मंज़र का ख्वाब देखकर वो अक्सर चीखती हुयी नींद से जाग जाती है , सीने से लगाकर गेब्रियल और माइकल उसे ढाढ़स बंधाते हैं ,

cut to ,

इधर समरीन और फ़ैज़ीना के क्लब में कुछ नए मेंबर्स के एंट्री फॉर्म्स भरे जा रहे हैं , एक बहुत बड़े जश्न की तैयारी है , रोहन और रोहित भी क्लब की मेम्बरशिप ले लेते हैं वक़्त के साथ उनके चेहरे में बदलाव और दाढ़ी मूँछ के कारण कोई उन्हें पहचान भी नहीं पाता है , धीरे धीरे रोहित और रोहन क्लब के अन्य मेंबर्स के साथ घुल मिल जाते हैं , और धीरे धीरे वो क्लब में हो रही हर एक गतिविधि का मुआयना कर लेते हैं , उसके हिसाब से गेब्रियल और माइकल भी हमले की तैयारी बनाते हैं , और इस बार निश्चय करते हैं की हर हाल में फ़ैज़ीना और समरीन के काले साम्राज्य को खत्म कर दिया जायेगा , उसके लिए उन्हें एक तगड़ी रणनीति पर काम करने की ज़रुरत थी , ये दो दलों दो जातियों या महज़ दो विचार धाराओं के मध्य का युद्ध नहीं था ये युद्ध था दो संस्कृतियों परम्पराओं और दो युगों के मध्य का युग था , अब देखना ये था विजय काली शक्तियों की होती है या अच्छी शक्तियों की होती है ,

राज़ के लापता होने के बाद से ही आर्या भीतर ही भीतर टूट चुका था, एक दिन वो मायूस जॉगर्स पार्क में बैठा था , तभी रोहन और रोहित की नज़र उस पर पड़ती है , वो उसके पास जाते हैं और पूछते हैं हे डूड व्हाट्स हैपेंड इस खुशनुमा मौसम में मायूस क्यों बैठे हो , पहले आर्या उनकी बात को अनसुना कर देता है मगर थोड़ी देर बाद वो रोहन और रोहित से घुल मिल जाता है और उन्हें राज़ के ग़ायब होने की कहानी विस्तार से बताता है , आर्या की कहानी उनकी समझ में आजाती है , वो आर्या को अपने साथ ही रखने लगते हैं ताकि उसका मन बहलता रहे , और एक दिन वो उसे अपने साथ फ़ैज़ीना और समरीन के पब में ले जाते हैं , जहां इंसानो को जुए में लगाया जाता है और हारने वाले को अपने आप को फ़ैज़ीना और समरीन के हवाले करना होता पड़ता है , क्यों की रोहित और रोहन क्लब के मेंबर्स हैं इसलिए उन्हें कोई नहीं रोकता है और साथ में आर्या भी क्लब के अंदर चला जाता है , वो क्लब में हो रहे मौत के तांडव को देखकर विचलित हो जाता है , और बाहर चला आता है , तभी रोहन और रोहित भी उसके पीछे पीछे आ जाते हैं , और आर्या को अपने साथ लेकर वहाँ से निकल जाते हैं , वो आर्या को उसके घर छोड़ते हैं और सीधा गेब्रियल और और माइकल के पास पहुंच जाते हैं , और क्लब में हो रहे जुए के माध्यम से मौत के खेल से अवगत कराते हैं , गेब्रियल और माइकल एक योजना बनाते हैं , जिसके माध्यम से फ़ैज़ीना और समरीन की सैतानी टोली को फ़साने के लिए चारे के रूप में कुछ हार्टलेस कपल्स के डांस शो का प्रोग्राम रखा जाता है , जिसमे शकीना और आफ़ताब को भी शामिल किया जाता है , ये प्रोग्राम गवर्नमेंट कमेटी हॉल में रखा जाता है जहां शहर के तमाम गणमान्य नागरिकों को आमंत्रण दिया जाता है , उन्हें पता था की अपना भांडा फूट जाने के डर से पब्लिक प्लेस में फ़ैज़ीना और समरीन अपनी सैतानी ताक़तों का प्रदर्शन नहीं करेगी ,

cut to ,

जवानी जानेमन हसीन दिलरुबा मिले दो दिल जवान निशार हो गया शिकारी खुद यहां शिकार हो गया बैक ग्राउंड में सांग बज रहा है गवर्नमेंट कमेटी हॉल में के डांस फ्लोर में कपल्स थिरक रहे हैं , सभी पार्टी एन्जॉय कर रहे हैं की अचानक फ़ैज़ीना और समरीन अपने असली रूप में आ जाती हैं , और वो वहाँ मौजूद तमाम कपल्स को एक एक करके उसके गुलाम अपने साथ ले जाने लगते हैं , तभी फ़ैज़ीना और समरीन की नज़र शकीना पर पड़ती है वो उसे अपनी गिरफ्त में ले लेती हैं और सभी को आगाह करती हैं की अगर किसी ने उनके काम को रोकने की कोशिश की तो वो सबको गवर्नमेंट के कमेटी हॉल में ही ज़िंदा दफ़न कर देगी , सभी कपल्स को वैन में भर कर फ़ैज़ीना और समरीन के पब में पंहुचा दिया जाता है , और इसी के साथ सब अंडर ग्राउंड हो जाते हैं , इधर रोहन और रोहित लगातार गेब्रियल और माइकेल को लोकेशन की रिपोर्टिंग देते रहते हैं , जिसे आर्या अपने ख़ास डिवाइस से ट्रैक करता रहता है ।

funny short horror stories in hindi,

दूर पहाड़ों के बीच के सुनशान गुफा जहां इंसान तो क्या परिंदा भी पर नहीं मार सकता है , सभी कपल्स को ले जाया जाता है , शकीना और आफताब के प्रति ख़ास कुदृष्टि है फ़ैज़ीना और समरीन की यथोचित स्थान पर पहुंचने के बाद सभी कपल्स को जंज़ीरों में बाँध दिया जाता है , उसी कतार में शकीना और आफताब भी खड़े हैं , तभी समरीन शकीना के पास पहुँचती है , और उसके सिर पर हाँथ फेरती हुयी कहती है मेरी बच्ची शकीना क्या रखा है इस आदम ज़ात आफताब में हाड मांस का बना पुतला है ये , एक दिन मर जायेगा , तभी फ़ैज़ीना भी शकीना के समीप आ जाती है और और कहती है शकीना क्या कमी रह गयी थी हमारी परवरिश में सैतानी दुनिया का हर सुख वैभव तुम्हारे क़दमों में था , हमारे बाद तुम ही सैतानी दुनिया की महारानी बनती , बेटी की तरह पला था हमने तुम्हे थोड़ा लालच देते हुए कहती है तुम्हे हम राजकुमारी घोषित करने ही वाले थे , तभी फ़ैज़ीना के मुँह पर थूकती हुयी शकीना कहती है , थूकती हूँ मैं सैतानी दुनिया की तुम्हारी उस दौलत पर मुझे नहीं चाहिए तुम्हारी कोई दौलत नहीं कोई शक्ति मुझे छोड़ दो प्लीज़ जाने दो इस नरक से , तभी समरीन आफताब के बाल पकड़ती हुयी कहती है यही बद्ज़ात है न तेरा आशिक़ बहुत प्यार करती है न तू इससे बड़ा गरूर है तुझे अपनी मोहब्बत पर और बाल घसीटती हुयी फर्श पर फेंक देती है फर्श पर गरते ही आफताब किसी लाश की भाँती घसीटता चला जाता है अपने प्यार की ये दुर्दशा देखकर शकीना के दिल का दर्द ज़बान पर उबल पड़ता है , वो बद्दुआएं देती हुयी चीखने लगती है , तभी रोहन और रोहित जानबूझकर फ़ैज़ीना और समरीन को धक्का दे देते हैं , जिससे वो दोनों लड़खड़ा जाती है , और अपना अपना खंज़र निकाल कर दोनों पर हमला कर देती है , खंज़र सीधा दिल की जगह पर लगता है , मगर रोहित और रोहन हँसते हुए खड़े रहते हैं , क्यों उनका दिल असली नहीं था एक ख़ास तरह की धातु का बना हुआ था , अपनी नाकामी पर क्रोधित होकर फ़ैज़ीना और समरीन झल्ला जाती हैं , और कहती है ये इंसान नहीं है टीन के डिब्बे हैं सबके सब , इतना कहकर फ़ैज़ीना और समरीन पलटती ही हैं की तभी  गुफा के अंदर ज़बरदस्त विस्फोट होता है , क्यों की आर्या माइकल और गेब्रियल को लेकर लोकेशन तक पहुंच चुका था और गेब्रियल की परी लोक की सेना के आक्रमण के आगे फ़ैज़ीना और समरीन की ताक़त बहुत देर तक टिक नहीं पाती है और अंततः फ़ैज़ीना और समरीन के काले साम्राज्य का सफाया कर दिया जाता है , इधर शकीना और आफताब भी साथ साथ जीवन व्यतीत करने लगते हैं ।

रोहन और रोहित शहर के हर पब बार में घूम घूम कर सैतानी हरकतों का पता लगाने का काम करते हैं , रात का वक़्त है हर ओर सन्नाटा है एक बार में म्यूज़िक सुनायी देता है , लैला मैं लैला ऐसी मैं लैला हर कोई चाहे मुझसे मिलना अकेला , म्यूज़िक की धुन सुनकर रोहित और रोहन अपनी कार बार की तरफ मोड़ देते हैं ।

finished……

pix taken by google ,