वादी ए गुल में क़हक़शाँ सजते थे कभी romantic shayari,

वादी ए गुल में क़हक़शाँ सजते थे कभी romantic shayari,

0
910
वादी ए गुल में क़हक़शाँ सजते थे कभी romantic shayari,
वादी ए गुल में क़हक़शाँ सजते थे कभी romantic shayari,

वादी ए गुल में क़हक़शाँ सजते थे कभी romantic shayari,

वादी ए गुल में क़हक़शाँ सजते थे कभी ,

कमबख़्त क़ुदरत के क़हर से सब्ज़ बाग़ हसीं देखे न गए ।

 

खूब सुर्खियाँ बटोरती हैं खबरें इश्क़ ओ ज़फाओं वाली ,

कभी दास्तान ए लैला मजनू का भी तो इस्तिहार छपे ।

 

यूँ नज़रों से दिलों के हालात बयान होते हैं ,

भर जाए ग़म बहुत तो आँखें खुद ही छलक जाती हैं ।

 

जो डूब मरे हसीं आँखों की गहरायी में ,

वही जाने क्यों दरिया को लोगों ने अज़ाब बना रखा है ।

 

तस्वीरों से आँखों की गहरायी का अंदाज़ा नहीं होता ,

डूबने वाले ही जाने चश्म ए दरिया में तैरना भी हुनरबाज़ी है ।

sad shayari 

कसूर नज़रों का था सज़ा दिल को मिली ,

फिर संगदिल ज़माने में नादान ग़िरफ़्तार हुआ ।

 

झील सी नज़रों में उतरने से डरना ,

फिर उसी आँख में ता उम्र डूबते तैरते रहना ।

 

हम अपनी तबीयत से नादाँ वो अपनी अदा से फ़ानी ,

फ़िज़ा में तूफ़ान भरा इश्क़ की फ़ितरत बेईमानी ।

 

वो कहते हैं दिलों की लगन लगाए क्यों नहीं ,

हम सब्ज़ बागों से आँख मूँद के गुज़रे भी तो नहीं ।

शौचालय एक दर्द कथा a short story ,

ज़ख़्मी अश्क़ों के छाले देखता है कौन ,

बस पलकों की तंग गलियों से मुकुर के गुज़र जाते हैं ।

 

नादानी उनकी थी कुछ नासमझ हम भी थे ,

ख़्वामख़्वाह मोहब्बत में उम्रें ज़ाया की कोई इशारा किये बग़ैर ।

 

हमने जब चाहा सिद्दत से चाहा ,

वो मिले भी मुद्दतों बाद तो किनारे से निकल गए ।

 

इश्क़ ए आब से वाक़िफ़ वो नहीं ,

या मोहब्बत ए जानिब खुद नामाकूल बने बैठे हैं ।

 

ऊँचे मकानों से नीचे दुकानों तक जो डूब गए ,

माँओं के लाल गए बेवाओं के मेहबूब गए होंगे ।

 

खामोश वादियों में इमदाद ए ग़ुहार पसरी है ,

ज़िन्दगी पर क़हर बनकर आसमानी क़यामत बरसी है ।

 

आ खुशियों में इज़ाफ़े इमदाद करें ,

दिलों के गिले शिकवे लबों से माफ़ करें ।

pix taken by google

Download WordPress Themes
Download WordPress Themes
Premium WordPress Themes Download
Download Nulled WordPress Themes
lynda course free download
download samsung firmware
Download Best WordPress Themes Free Download
free download udemy course

NO COMMENTS