शराब तो ख़्वामख़्वाह बदनाम है साक़ी one line thoughts on life in hindi,

0
802
शराब तो ख़्वामख़्वाह बदनाम है साक़ी one line thoughts on life in hindi,
शराब तो ख़्वामख़्वाह बदनाम है साक़ी one line thoughts on life in hindi,

शराब तो ख़्वामख़्वाह बदनाम है साक़ी one line thoughts on life in hindi,

शराब तो ख़्वामख़्वाह बदनाम है साक़ी ,

लोग तेरे दर पर शेर ओ सुख़न से भी बहक जाते हैं ।

 

कम्बख़्त तेरा इश्क़ भी शराब से कम नहीं ,

चढ़ता है तो ख़ुमारी बढ़ जाती है उतरता है तो दिल ए बेक़रारी बढ़ जाती है ।

 

वो ज़माने और थे जब बाब ए सुखन को तरसते थे लोग ,

अब दौर ए आशिक़ी में उर्दू खुद ब खुद नगमो में संवर जाती है ।

 

बारहां यही एक साल ऐसा गुज़रा ,

जो क़तील ए शहर पर भी बेमिशाल गुज़रा ।

whatsapp status 

जाते जाते सारी शहर ए अवाम क़तार में लगा के महज़ ,

चंद सियासी हुकुमरानों ने दौलत ए मौजें लूटीं ।

 

जाते जाते वो अज़ाब दे देगा अच्छी खासी ज़िन्दगी मुहाल कर देगा ,

उम्मीद न थी शहर ए मुंसिफ मिलेगा ऐसा क़ातिलों को क़तील कर देगा ।

 

शब् ए बज़्म में आ बैठे जाहिलों की तरह ,

शेर ओ सुखन के शौकीनों से पूछते हो ये हुजूम ए क़तील का माज़रा क्या है ।

 

हम घर से तो निकले थे उजले लिबास में ,

गोया ज़माने की गर्द में कफ़न भी मैला हो गया ।

 

मुद्दतों बाद लब पर आकर ठहरी सी है ,

शराब छूई भी नहीं फिर भी ख़ुमार ए मैक़शी सी है ।

 

अभी तो शाम गुज़री है चाँद आधा है ,

शब् ए फ़िराक के बाद जाने क्या इरादा है ।

valentine day shayari , 

वो नज़रों का तग़ाफ़ुल लबों का पयाम क़बूल न करना ,

गुनाह ए इश्क़ दिल ने किया और इल्ज़ाम हम पर लग गया ।

 

ख़त जला दिए अच्छा ही किया , गूँजते लफ़्ज़ों को कहाँ छुपाओगे ,

नाम लब पर मेरा जो आया धोखे से बहते अश्क़ों में भीग जाओगे ।

 

खाली बेग़ैरत की ज़िन्दगी अपनी न पता न मक़ाम अपना ,

ख़त बेरंग लौट जायेगा किसके हाँथों भेजोगे हाल ए पयाम अपना ।

 

कुरेदे ज़ख्मों की उठती टीस में ग़ज़ल होती है ,

दर्द दिल में हो तो ये इनायत ए करम खुद बा खुद ज़हेनशीब होती है ।

pix taken by google