बड़े चर्चे हैं खुश्बू ए गुल के मयारों में urdu quotes in hindi ,

0
361
बड़े चर्चे हैं खुश्बू ए गुल के मयारों में urdu quotes in hindi ,
बड़े चर्चे हैं खुश्बू ए गुल के मयारों में urdu quotes in hindi ,

बड़े चर्चे हैं खुश्बू ए गुल के मयारों में urdu quotes in hindi ,

बड़े चर्चे हैं खुश्बू ए गुल के मयारों में ,

सुना है काफ़िरों ने भी मोहब्बत की नमाज़ें अदा कर लीं ।

 

खुश्बू ए गुल से जहाँ का कारोबार चलता अगर ,

हम मोहब्बतों में सेहरा ए  अज़ाब से सर कटा के गुज़रे हैं ।

 

सियासत ने मय में घोल दी नफ़रत वरना,

मयकशी के बाद किसी से तलवार उठे है ।

quotes on darkness in hindi , 

लफ़्ज़ों में सियासत नहीं आती वरना ,

हम मोहब्बतों में लहज़े न बदला करते

 

तह ए दिल की गुज़ारिश है मोहसिन ,

मोहब्बतों के दबे घाव न उँघारो यारों

 

आदम ए खून के अलावा नफरतें औरों में भी थीं,

गोया एक इंसान ही है जो उम्र दर उम्र नश्लें तबाह किया ।

 

वक़्त बदला ज़हालत बदली , इंसान तो फिर भी इंसान है,

बावजूद ए नफ़रत के न मोहब्बतों की फ़ितरत बदली ।

 

अपनी वफ़ादारी पर गुमान न कर ,

इश्क़ है हमने भी किया था ग़ालिब एक उससे भी छोड़ा न गया हमसे भी भुलाया न गया ।

 

मोहब्बत दिलों में हो ग़र लफ़्ज़ों में ज़ाया नहीं करते ,

ज़माना लूट खायेगा सरे आम ये अनमोल धरोहर निकाला नहीं करते।

 

लरज़ते लहज़े से साफ़ नज़र आता है ,

तू मदहोश ही नहीं मगरूर भी है मोहब्बत में ।

 

गड़े मुर्दों को यूँ उँघार करके न देख ,

मेरे अपनों की भी बू आती है इससे ।

 

हाल देखा है मोहब्बत के मसीहों का हमने ,

अब दुनियाँ कारिंदों का जाने क्या अंजाम करे ।

 

बंटे बंटे थे मज़हबी कुनबे सारे ,

सियIसियों की नेक नियति की क़दर करनी चाहिए सबको सबका दींन ओ मज़हब बता दिया ।

 

ये जो शहर भर में मज़हबी नुमाइश सजा के रखी है,

सुना है करोड़ों का कारोबार हुआ करता है ।

 

तुमने देखे होंगे मज़हबी मसीहे कई ,

हमने कई बार मोहब्बतों के दर पर सर झुकाया है ।

 

तहरीर ए वक़्त से दो क़दम आगे की बात करता हूँ ,

मोहब्बत है मज़हब मेरा मैं हर मुक़दमे में मोहब्बत की पैरवी करता हूँ I

desi comedy horror story in hindi 

कभी पूछा है नीम के दरख्तों से उनका मज़हब ,

कड़वा होता है फिर भी राहगीरों को ठंडी छाँव देता है ।

pix taken by google ,