thirty first night party horror erotic love story in hindi ,

thirty first night party horror erotic love story in hindi ,

0
1117
thirty first night party horror erotic love story in hindi ,
thirty first night party erotic love story in hindi ,

thirty first night party horror erotic love story in hindi ,

दूर के दोस्त की शादी में गए संजय की आँख सामने खड़ी लड़की शाक्षी की आँखों से हट नहीं पाती है वेटर शॉफ्ट ड्रिंक सर्व कर रहा है , तभी संजय भी ड्रिंक लेने में लग जाता है और पलक झपकते ही कोई शॉफ्ट सी हथेली संजय के पिछवाड़े पर थपकी मार कर निकल जाती है , संजय जब पलट कर देखता है , कोई और नहीं शाक्षी ही रहती है , वो भीड़ से भरे हाल में संजय को उसके पास आने का इशारा करती है कामाग्नि में जल रहा संजय चुपचाप उसके पीछे चलना सुरु कर देता है , और कुछ ही पलो में होटल के कमरे में पहुंच जाता है जहां शाक्षी बड़ी बेसब्री के साथ अपने शिकार का इंतज़ार कर रही थी , संजय शाक्षी की बाहों में खोता चला जाता है , शाक्षी संजय के बाल अपनी मुट्ठी में भींच लेती है , शाक्षी के नुकीले नाखून संजय की पीठ पर पैबस्त होने लगते हैं जिसका दर्द कामाग्नि में जल रहे युगल के सुख को और मधुर बना रहा था , कुछ मिनटों की गरम लम्बी साँसों के बाद साँसों का काफिला रुक जाता है दोनों अपने अपने कपडे पहनते हैं नंबरों का आदान प्रदान होता है और कुछ ही क्षणों में दोनों एक दूसरे से दूर चले जाते हैं ,

दिन गुज़रते हैं मगर मोहब्बत की तड़प रह रह कर संजय के दिल में कसकती है , और एक दिन अचानक संजय के मोबाइल में शाक्षी का फोन आता है , शाक्षी बोलती है जान यू मिस में एनी टाइम संजय।। यस बेबी ऑलवेज मिसिंग यू तुमने कितने दिनों बाद फोन लगाया , कहाँ थी इतने दिनों तक शाक्षी कहती है सॉरी बेबी बुटीक का नया कंसाइनमेंट आ गया था काम के सिलसिले में दुबई गयी थी अभी लौटी हूँ आजाओ फ़ौरन गोवा न्यू ईयर की पार्टी एन्जॉय करते हैं , संजय कहता है ओके स्योर बेबी आई एम् किंग नाउ , और दूसरे ही दिन फ्लाइट पकड़ कर गोवा के लिए रवाना हो जाता है , गोवा पहुंच कर संजय शाक्षी की लोकेशन लेता है की आखिर आना कहाँ है , शाक्षी उसे डार्क टाउन का लोकेशन बता देती है , कामाग्नि में जल रहा संजय टैक्सी पकड़ता है मगर डार्क टाउन से लग भग ३ किलोमीटर पहले ही वो संजय को उतार देता है , और कहता है साहब इससे आगे का सफर आपको पैदल ही तय करना होगा , शाम हो गयी है जंगली इलाका है हो सके तो रात होने से पहले ही जंगल क्रॉस कर लीजिये रास्ता वहशी दरिंदों से भरा पड़ा है अगर उनसे बच गए तो फिर जंगली जानवर तो हैं ही , संजय कहता है कहाँ आकर फंस गए फोन देखता है नेटवर्क गायब रहता है , तभी एक टैक्सी और आकर रूकती है संजय कहता है अबे चिंटू तू यहां कैसे बे चिंटू गले मिलता हुआ कहताहै बस वही मैडम माया का इनविटेशन आया था ख़ास पार्टी रखी है थर्टी फर्स्ट की डार्क टाउन में संजय पूछता है ये मैडम माया कौन है बे चिंटू बताता है वही शाक्षी जिसके ख्वाब तुझे दिन रात सोने नहीं देते ,

ghost stories in hindi

संजय कहता है यार तू भी बहुत बड़ा वाला कमीना है , और दोनों जंगल के वीरान रास्तों पर चलना सुरु कर देते हैं , तभी

अनजान दिशाओं से धार दार ब्लेड्स से दोनों पर हमला होता है दोनों जान बचाकर भागते हैं एक एक पेड़ की आड़ में छुप जाते हैं , चन्टू बोलता है संजय तू बच गया संजय बोलता है ये क्या बला थी यार तभी संजय की नज़र अपने पैर पर लिपटे बौने दरिंदों की तरफ पड़ती है, जो की उसके जिस्म से बह रहे खून को बड़े चाव से चाट रहे थे , संजय उस बौने दरिंदे को अपने जिस्म से अलग करने की नाक़ाम कोशिश करता है तभी चन्टू एक लकड़ी से उसपर तगड़ा प्रहार करता है , और दूसरे ही क्षण वो चीं चीं करता वहां से भाग जाता है संजय कहता है साली ये क्या आफ़त थी यार चन्टू कहता है पता नहीं क्या था यार ये मैडम माया भी हमें कहाँ फंसा दी अच्छी खासी मुंबई की लाइफ एन्जॉय कर रहे थे , अब क्या करें वापस चलना है या मैडम माया की पार्टी एन्जॉय करना है संजय कहता है अब आये हैं तो पार्टी तो एन्जॉय करेंगे ही दोनों आगे बढ़ना सुरु करते हैं अभी कुछ कदम ही आगे बढे होंगे की तभी दोनों अपने आपको खूंखार जंगली कबीले के झुण्ड के बीच में घिरा हुआ पाते हैं दोनों पर एक बार फिर हमला होता है की तभी अचानक चारों तरफ अँधेरा हो जाता है और जब आँख खुलती है तब दोनों अपने आपको एक अँधेरी कालकोठरी में क़ैद पाते हैं ,

और कुछ ही पलों में उन्हें एक ट्रक में बिठा कर मैडम माया की हवेली की तरफ रवाना कर दिया जाता है , मगर ये क्या कुछ घण्टों के सफर के बाद ही सभी क़ैदियों को ट्रक से उतार दिया जाता है , और एक सिपाही बन्दूक से गोली दागता हुआ कहता है तुम्हे इस दरिया को फ़ौरन पार करना है सभी क़ैदी इधर उधर भागने में लग जाते हैं मगर तभी इधर उधर से बौने दरिंदे उनपर हमला कर देते हैं और उनके जिस्म की बोटियाँ नोच नोचकर खाना सुरु कर देते हैं कुछ इंसानी मांस के टुकड़े लेकर झाड़ियों में गायब हो जाते हैं ये सब भयानक दृश्य देखकर बचे खुचे क़ैदी भी भी दरिया में कूद जाते हैं मगर पानी में खूंखार मगरमच्छों का हमला हो जाता है संजय और चन्टू किसी तरह से वहाँ से जान बचा के भागते हैं , और दरिया पार जंगलों में घुस जाते हैं , संजय एक बार फिर कहता है चन्टू ये लौंडिया फ्रॉड है हमें यहां से निकल जाना चाहिए , चन्टू बोलता है आगे मौत है पीछे खाई है दरिया में मगरमच्छ है ज़मीन दरिंदों से भरी पड़ी है , यही सब बाते करते करते दोनों दरिया के किनारे किनारे चलना सुरु करते हैं सामने एक छतरी के नीचे एक खूब सूरत महिला सन बाथ ले रही है चन्टू कहता है भाई ये सच है या महज़ मेरी आँखों का सपना है सामने शाक्षी को पाकर दोनों झूम जाते हैं दोनों को देखकर शाक्षी भी बहुत खुश होती है और ख़ुशी के मारे चिल्ला पड़ती है अरे चन्टू और संजय व्हाट ए प्लेजेंट सरप्राइज़ मगर तुम दोनों का ये हाल कैसे हुआ संजय और चन्टू ने साथ घटी सारी घटना का वृत्तांत विस्तार से बताया उन दोनों की बात सुनकर शाक्षी ज़ोर ज़ोर स हसने लगती है और कहती है कितने नादान हो तुम दोनों मैंने कहाँ था न की मारगोआ के रास्ते से आना मैंने मैसेज भी भेजा था तुम दोनों को मापुसा का इलाका जंगली जानवरों और वहशी दरिन्दों से भरा पड़ा है,

खैर तुम दोनों सही सलामत हो देखकर मुझे ख़ुशी हुयी , और बात करते करते तीनो कॉटेज के अंदर चले जाते हैं , शाक्षी

अर्थात मैडम माया दोनों से कहती है तुम दोनों फ्रेश जाओ फिर मलहम पट्टी करती हूँ, फ्रेश होने के बाद दोनों बेड पर लेट जाते हैं तभी हॉल के अंदर ब्लैक ड्रेस में एक खूबसूरत महिला का प्रवेश होता है जिसने ब्लैक स्कर्ट, जाँघों तक ब्लैक हाई हील बूट घुटनो के ऊपर ब्लैक पारदर्शी सॉक्स स्लीवलेस वेस्ट टॉप जो की कामोत्तेजना और तीव्र बना रहा था , चन्टू और संजय उस मनमोहक सुंदरी के यौवन को देख कर अवाक रह जाते हैं , और अपनी बड़ी बड़ी फटी आँखों से उसे एकाग्रचित हो कर देखने लगते हैं अभी उन्होंने चक्षुओं से यौवन का रसास्वादन करना सुरु ही किया था की तभी मैडम माया की हॉल में एंट्री होती है एक एक करके दोनों के घाव को कॉटन से साफ़ करती है तत्पश्चात उस पर मरहम लगाती है , शाक्षी का स्पर्श जिस्म में लगे घाव के दर्द में भी मज़ा दे रहा था , शाक्षी के द्वारा किये गए इलाज़ के बाद ब्लैक ड्रेस वाली महिला दोनों के लिए एक ख़ास ड्रिंक लेकर आती है जिसे पीने के बाद दोनों के जिस्म का दर्द गायब हो जाता है रह जाता है तो बस दिल की अनछुई कसक , और शाक्षी भी ग्रामोफोन में चल रहे गाने कोई पत्थर से न मारे मेरे दीवाने को के साथ गाना गुनगुना रही थी , की तभी संजय शाक्षी को बाहों में भरकर भींच लेता है , शाक्षी भी कामोवेश में जलने लगती है वो संजय को खींचती हुए डार्क रूम में ले जाती है जहां एक ज़बरदस्त उत्तेजक माहौल है चरों तरफ धीमी धीमी लाल लाइट्स जल रही है , संजय फ़ौरन अपनी शर्ट उतारता है शाक्षी उसे रोक देती है और उसके पेंट की ज़िप वो अपने हांथों से खोलती है इधर संजय को डार्क रूम में जाता देख चन्टू बेचैन हो जाता है , मगर तभी ब्लैक ड्रेस वाली लड़की चन्टू को बेड पर पटक देती है और और खुद उसके ऊपर सवार हो जाती है और चन्टू को फुल सर्विस मसाज देने के लिए उसके कपडे उतार कर खूँटी में टांग देती है और अपने कोमल हांथों के मसाज से भरपूर आनंद देती है , इधर संजय कामोवेश में सभी हदें पार करता हुआ प्रेम के उस परम सुख की अनुभूति में खो जाता है तभी शाक्षी उसे धक्का देती हुयी दूर फेंक देती है और कहती है अब छोड़ो भी कल के लिए भी कुछ रहने दो और मुस्कुराती हुए अपने अंडरगार्मेंट्स पहनती हुई रूम से बाहर निकल जाती है , इधर पीछे पीछे संजय भी रूम से बाहर निकल आता है तभी सोफे पर बैठे चन्टू पर संजय की नज़र पड़ती है संजय कहता है न बे तू यहीं का यहीं बैठा है चन्टू कहता है नहीं भाई मैं भी ब्लॅकड्रेस्स वाली के साथ डार्क रूम में गया था साला ऊपर ऊपर गरम करके ठंडा छोड़ कर चली गयी , तू तो मैडम माया के साथ मजे किया होगा न बे

hindi kahani,

बचा था सिर्फ दिल का दर्द जो अगले दिन की रात की पार्टी में ही ख़त्म होने वाला था , संजय अपनी विवसता को दिल में छुपाता हुआ कहता है हाँ खूब मज़े किये चन्टू कहता है भाई तू वाक़ई मैडम माया की सच्ची मोहब्बत है , तुझसे बहुत प्यार करती है और दोनों आपस में बात करते हुए हॉल से बाहर निकल जाते हैं , शाम का वक़्त है बीच के किनारे पार्टी चालू है मैडम माया द्वारा इन्वाइटेड सभी विदेशी अतिथि महफ़िल की शोभा बढ़ा रहे थे , और अर्धनग्न अवस्था में बार बालाएं सबको ड्रिंक सर्व कर रही थी खाने की टेबल पर बौने वेटर सबको खाना दे रहे थे , तभी एक दुबई का शेख एक बौने वेटर से उलझ पड़ता है और बोलता है हे यू नाटू लिटिल फंकी मैन तभी चन्टू की नज़र उस बौने पर पड़ती है वो संजय को बोलता है भाई देख ये वही बौना दरिंदा है जो हम पर हमला किया था संजय उसे गौर से देखता है और चिल्लाता है पकड़ो इसे ये वहशी दरिंदा है शेख उसे बौने को अपने दोनों हांथो से ऊपर उठा लेता है तभी बौना उसके हाँथ में काट देता है जिससे शेख की पकड़ कमज़ोर पड़ जाती है और मौका देखकर बौना जंगल की तरफ भाग जाता है तभी शाक्षी अर्थात मैडम माया वहाँ पर पहुंच जाती है और शेख दर्द से ज़मीन पर लेटा कराह रहा है मैडम माया उसके पिछवाड़े में एक लात मारती है , और चिल्ला कर कहती है मासूम बच्चा है वो एक ज़रा सी गलती के लिए इतनी बड़ी सजा दोगे तुम उसे और पुचकार कर बुलाती है टफी कहाँ हो तुम बेबी शाक्षी की एक आवाज़ में टफी आकर शाक्षी की गाउन में घुस जाता है , और शाक्षी के जिस्म को कुत्ते के पिल्लै की तरह चाटना सुरु कर देता है शाक्षी उसका माथा चूम लेती है और उसे अपने पालतू बच्चे की तरह बाहों में भर लेती है शाक्षी की बाहों में बौना अपने आपको बहुत सुरक्षित महसूस करता है और शाक्षी का गाउन पकड़ कर उसके पीछे चलना सुरु कर देता है , शाक्षी कहती है देखा दोस्तों हथियारों से सिर्फ कौमे फतेह की जाती है प्यार से दिल जीते जाते हैं , सारी कायनात ख़त्म हो जाती है बस एक नाम मोहब्बत का रह जाता है , तभी चन्टू संजय के कान में कहता है मैडम माया ड्रामा अच्छा कर लेती है अच्छा खासा जमावड़ा है इसके आशिक़ों को संजय कहता है बात में दम है मेरे दोस्त , और दोनों अपनी अपनी ड्रिंक ख़त्म करने में लग जाते हैं , तभी पार्टी ग्राउंड के एक कोने में मैडम माया अपने कुक को कुछ समझा रही थी , चन्टू संजय को कहता है भाई ये शाक्षी बड़ी कुत्ती चीज़ है भाई ये जो मुस्टंडा कुक बना घूम रहा हैना साला इसी ने हमारे सर पर लट्ठ बजाया था हो न हो भाई जंगल में जितने भी जानलेवा हमले हुए उस सबमे शाक्षी अर्थात मैडम माया का हाँथ है संजय कहता है गुरु कुछ बड़ा खतरनाक होने वाला है कल की पार्टी में चन्टू बोलता है भाई पार्टी से पहले ही भाग निकले तो जान बच जाएगी संजय कहता है मगर भागेंगे कैसे विला के चारों तरफ वहशी दरिंदों का सख़्त पहरा है चन्टू कहता है तू टेंशन न ले कल जब पार्टी में सब बिजी रहेंगे उसी समय हम यहां से निकलेंगे , और हमारी योजना की खबर किसी को कानो कान नहीं होनी चाहिए ,

cut to ,

पार्टी समंदर किनारे बीच पर चल रही है समंदर के रास्ते भी कुछ विदेशी फ्रेंड्स अभी अभी बोट से उतरे हैं कुछ आसमान

से हैलिकॉप्टर से आये हैं कुल मिला कर मैडम माया की महफ़िल में दुनिया जहान के रंग बिरंगे आशिक़ों की भरमार है और उनके स्वागत के लिए एक से खूबसूरत तितली का इंतज़ाम किया है मैडम माया ने दुनिया जहान के टॉप मेल फीमेल मॉडल्स की भरमार हैं रैंप पर अर्धनग्न अवस्था में लड़के और लडकियां दुनिया जहान के टॉप ब्रांड्स क्लॉथिंग मटेरियल का प्रदर्शन कर रहे हैं और गर्ल्स मॉडल ब्रांड्स ओनर को अपने जिस्म की नुमाइश से अपनी ओर आकर्षित करने की कोशिश कर रही हैं , तभी चारों तरफ लाइट्स ऑफ कर दी जाती है और स्क्रीन पर टूरिस्ट्स पर हुए वहशी दरिंदों के हमले का वीडियो चलने लगता है और स्टेज पर लाइट के फोकस के साथ दिखाई पड़ती है मैडम माया मैडम माया स्टेज से अनाउंस करती है मेहरबान कदरदान दिल थाम कर बैठिये जिस शो का आप सबको बेसबरी से इंतज़ार था वो पल आ गया है वैसे तो आप सभी जानते हैं की दुनिया जहान में मैडम माया के चाहने वालों की कमी नहीं है अब देखना ये है की कौन मेरे इश्क़ की दीवानगी में कितना डूब सकता है और मेरे लिए क्या कर सकता है , तभी एक शख्स स्टेज पर आता है और माइक उठा कर चैलेंज एक्सेप्ट करता हुआ कहता है मैं मैडम माया के लिए अपनी जान भी दे सकता हूँ , मैडम माया कहती है गाइज़ मुझे तुहारी जान नहीं मुझे तुम्हारा दिल चाहिए क्या तुम मुझे अपना दिल निकाल कर गिफ्ट कर सकते हो , उस शख्स के सामने एक ब्लैक बूटी बेब ट्रे में खंज़र लेकर खड़ी है वो युवक बढ़कर खंज़र उठाता है देखते ही देखते खंज़र सीने में पैबस्त हो जाता है युवक दिल निकाल कर मैडम माया के हाँथ में दे देता है और दूसरे ही पल वो युवक धड़ाम से स्टेज पर गिर जाता है , युवक का दिल मैडम माया ने अपने हाँथ में थामा हुआ है और उससे लगातार खून फर्श पर टपक रहा था ज़मीन पर टपक रही लहू की बूंदों को बौना वेटर जीभ लगाकर चाट रहा था मैडम माया दिल को उसके सामने डाल देता है और बौना वेटर दिल को लप लप करके चाटना सुरु कर देता है मैडम माया उसके सर पर प्यारसे हाँथ फेरती हुयी कहती है मेरा प्यारा टफी मेरा बेबी दिल खाने के बाद मैडम माया एक बार पुनः टफी को अपनी बाहों में उठा लेता है टफी प्यार से मैडम माया का फेस चाटता है टफी की जीभ का स्पर्श मैडम माया को चरमसुख की अनुभूति करा रहा था , ये सारा दृश्य इतना भयानक था की बहुत से लोग डर गए थे और वहां से भागने लग गए थे उन डरे हुए लोगों को मैडम माया के बौने और बड़े वहशी दरिंदे झाड़ियों में ले जाकर दावत का मज़ा लूट रहे थे ,तभी मैडम माया एक बार पुनः अनाउंस करती है और है कोई मेरा सच्चा आशिक़ जो मेरे इश्क़ में हद से गुज़र जाए , तभी एक नौजवान पुनः स्टेज पर आता है मैडम मैडम माया के कदमो में अपना सरझुकार कर कहता है क्या हुक्म है मेरे आका मैडम माया एक ५ू०० फ़ीट ऊंचे टॉवर की ओर इशारा करती है लाइट का फोकस उस टॉवर पर पड़ता है मैडम माया कहती है तुम्हे उस टॉवर पर चढ़ कर नीचे कूदना है वो शख्स जी बोलकर टॉवर की तरफ बढ़ जाता है मैडम माया ने ड्रिंक में ख़ास तरह का ड्रग्स मिलाया हुआ था जिसे पीते ही इंसान गुलाम बन जाता है और सामने वाले का हर हुकुम मानने के लिए बेबस हो जाता है , और कुछ ही पलों में वो शख्स टॉवर के टॉप पर होता है , और मैडम माया उसे चिल्लाकर आई लव यू बोलती है , और वो शख्स आई लव यू टू बोलता हुआ टॉवर से नीचे कूंद जाता है , और कुछ ही पलों में वहशी दरिंदे उस युवक की लाश को ले जाकर झाड़ियों में गुम हो जाते हैं ,

quotes about life in urdu,

अँधेरे का फायदा उठाकर संजय और चन्टू भी पार्टी से निकल भागते हैं और छुपते छुपाते किसी तरह दरिया किनारे खड़े बोट पर पहुंच जाते हैं , और बोट स्टार्ट करके लगभग आधा दरिया पार कर चुके होते हैं तभी सर्च लाइट्स का प्रकाश संजय और चन्टू की आँखों को चकाचौंध कर देता है , सामने से एक बड़ी बोट उनकी तरफ आती हुयी दिखाई देती है तभी मैडम माया माइक से अनाउंस करती है , ( इश्क़ भी करते हैं दगा भी करते हैं बस अपने सर बेवफ़ाई का इल्ज़ाम नहीं लेते , वाह मेरे आशिक़ क़त्ल मेरा ही करते हैं और हाँथ में हथियार भी नहीं लेते ) जान से मार दो हराम खोरों को, और देखते ही देखते मैडम माया की बोट संजय और चन्टू की बोट के बहुत नज़दीक पहुंच जाती है मैडम माया का ऑर्डर पाते ही हर तरह के वहशी दरिंदे संजय और चन्टू की बोट में कूदना सुरु कर देते हैं मौका पाकर चन्टू और संजय भी पानी में छलांग लगा देते हैं और पलक झपकते ही दूसरे किनारे पर पहुंच जाते हैं और इधर वहशी दरिंदे खाली बोट पाकर झल्ला जाते हैं , तभी मैडम माया की नज़र दरिया किनारे भाग रहे संजय और चन्टू पर पड़ती है मैडम माया के वहशी दरिंदे एक बार फिर संजय और चन्टू की तरफ लपकते हैं मगर तभी मैडम माया उन्हें रोक देती है और कहती है , जाने दो आशिक़ हैं हमारे मरेंगे तो इश्क़ में ही मरेंगे , लगता है हमारी मोहब्बत में ही कुछ कमी रह गयी थी , क्या पता कल इन्हे फिर हमारी मोहब्बत हमारे पास ले आये , और लाइट्स ऑफ हो जाती है।

the end

pics taken by google ,

Download Premium WordPress Themes Free
Download Nulled WordPress Themes
Download WordPress Themes
Download Premium WordPress Themes Free
udemy paid course free download
download karbonn firmware
Download WordPress Themes Free
lynda course free download

NO COMMENTS