ज़िन्दगी में जीतने का शौक़ ही हो अगर quotes life hindi ,

0
291
ज़िन्दगी में जीतने का शौक़ ही हो अगर quotes life hindi ,
ज़िन्दगी में जीतने का शौक़ ही हो अगर quotes life hindi ,

ज़िन्दगी में जीतने का शौक़ ही हो अगर quotes life hindi ,

ज़िन्दगी में जीतने का शौक़ ही हो अगर,

आज से अब से अभी से जश्न ए शिकस्त में शिरकत कर लो ।

 

सर पर मज़हबी टोकरा बदन पर फटी बुश्शर्ट ,

राह ए फकीरों से मत पूछो चिलचिलाती धूप में गर्मी कहाँ पर लगती है।

 

टपक के खार भी नहीं बनते ,

मेरे दिल का समंदर भी पूरा सूखा है ।

 mohabbat shayari

साहिलों पर ग़ज़ल लिख कर के,

अश्क़ों की लहरों से फिर मिटाता हूँ ।

 

समंदर की स्याही को कलम कर कर के ,

मैं लिखता हूँ तुझको तमाम रात आँखें तर कर कर के

 

होठों पर गिला आँखों में तबस्सुम रखना ,

उफ़ तौबा तेरा हाल ए शिकस्ता गुफ्तगू करना ।

 

वक़्त के हाथों ही हैं शाह और सिकंदर दोनों ,

इसके आगे कोई सरताज़ नहीं ।

 

मेरी नाकामी को सिकस्ती का नाम न दो ,

वक़्त का मारा हूँ इतना भी अभी लाचार नहीं ।

 

दो घूँट ग़म भी मिला दे शाकी ,

जश्न ए बर्बादियों सा कोई जश्न नहीं ।

 

हाल ए दिल अब भी मुकम्मल न सही ,

इश्क़ ए शिकस्त का फिर भी कोई ग़म ही नहीं ।

 

ज़िन्दगी में सब कुछ इत्तेफ़ाक़न सही ,

ज़िन्दगी खुद में कोई इत्तेफ़ाक़ नहीं

 

तेरे ख्यालों से पहले तेरा लौट कर आना ,

इसे मोहब्बत न समझू तो इत्तेफ़ाक़ कहूँ

 

इस रात की तफ़्तीश करवाओ यारों ,

इत्तेफ़ाक़न ही यूँ रात अटक जाती नहीं ।

 

तुझसे नज़र का मिलना इत्तेफ़ाक़न ही सही ,

दिलों में गुलों का खिलना कोई इत्तेफ़ाक़ नहीं

 

तिनका तिनका गवाही देगा ,

ज़र्रा ज़र्रा जला है गर्म आहों से ।

 

गिर के सूख गया ज़मीन पर गेहूँ की बाली की तरह ,

अपनी लहलहाती फसल की बर्बादियों का मालिक

 

उगेने पाँव कभी निकलो तो जानो ,

मखमली फर्श पर गर्मी का एहसास कहाँ होता है ।

अल्फ़ाज़ों को सही आयाम नहीं मिलता ,

मौसम ए तपिस से हर्फ़ दर हर्फ़ झुलस जाते हैं ।

bhutiya kahani,

दबी दबी सी धड़कनो में शिरकत करने ,

इत्तेफ़ाक़न ही चले आते हो ख्यालों में हरकत करने

pix taken by google