डूब जाते हैं कई चाँद फ़लक़ पर आते आते Alfaaz shayari,

1
645
डूब जाते हैं कई चाँद फ़लक़ पर आते आते Alfaaz shayari,
डूब जाते हैं कई चाँद फ़लक़ पर आते आते Alfaaz shayari,

डूब जाते हैं कई चाँद फ़लक़ पर आते आते Alfaaz shayari,

डूब जाते हैं कई चाँद फ़लक़ पर आते आते ,

जमाल ए यार की आँखों में वो गहरायी है ।

 

तुझसे मिल कर चाँद तारों में रात कटती है ,

अब तू ही बता तेरा हाल कैसा है ।

 

रात नींद भी आई सुकून भी दिल को है ,

बड़ी मुद्दत के बाद रात उनके पहलू में है ।

 

तड़पती शर्द झोकों की रात में ऐसा जला सरारा,

न शायरी न ही रह गया बेचारा ।

quotes in hindi ,

तुझसे मिल कर चाँद तारों में रात कटती है ,

अब तू ही बता तेरा हाल कैसा है ।

 

डूब जाते हैं कई चाँद फ़लक़ पर आते आते ,

जमाल ए यार की आँखों में वो गहरायी है ।

 

हर रोज़ नए जलवे इख़्तियार मैं सो जाता हूँ ,

मेरे ख़्वाबों में मेरे क़त्ल का सामान तैयार करता है ।

 

सोचता हूँ तेरे लब पर इबारत लिखूं,

मोहब्बत लिखूं या तिज़ारत लिखूं ।

 

बड़ी लम्बी उम्र निकली ख़्याल ए यार की ,

लो दिल ने याद किया और वो हो गया हाज़िर ।

 

रंग बिरंगे फूलों से सजी है हर कयारी ,

किसी एक के रंग ओ बू से गुंचा ए चमन की मुक़म्मल तस्वीर नहीं बनती ।

 

सियासियों ने मज़हब बता दिया वरना ,

हमने यही पढ़ा था कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत एक है ।

 

लुत्फ़ आता अगर आँख मिल जाती ,

हश्र होता क्या बस खुदा जाने ।

 

कारिंदों के हुनर का कमाल लगता है ,

तू ज़िंदा मुजस्सिम ए ताज़महल सा बेमिशाल लगता है ।

 

सारे शहर की रौशनी है जिसकी आँखों में ,

आज वो आँखें ख़ुशी का ज़रिया तलाश करती हैं ।

 

फुटपाथ सा पेट पालने का हुनर ,

कोख से भी कोई सीख नहीं पाता है ।

 

मौत मेहरबान थी सब पर,

पर सबको ज़िन्दगी से प्यार बेइंतेहा रहा ।

 

अब जब ज़िन्दगी जुनून सी लगने लगी,

गली कूचों में हंसी से मिलती है ।

 

यूँ तो ज़िन्दगी कम न थी उसके बारहां हम न थे ,

जो पल थे जबीन ए रूबरू ख़ुशी के पल कम न थे ।

heart touching sad love story in hindi,

जब तलाश थी ज़र्रे ज़र्रे में ,

महफिलों की रानाईयो में साद ओ ग़म न मिला ।

 

गुज़र रही है ज़िन्दगी तमाम आहिश्ता,

दिख रही है रंग ए जोहर तमाम बावस्ता ।

pix taken by google ,