गुलाब जामुन बनाने की विधि indian recipes ,

0
992
gulab jamun in hindi
gulab jamun in hindi

गुलाब जामुन बनाने की विधि indian recipes ,

दोस्तों गुलाबजामुन का नाम सुनते ही मुँह में पानी आना स्वाभाविक है , और अगर इस होली में कोई आपको गुलाब

जामुन घर में ही खिलाये तो बात ही कुछ और है , और अगर ये आप खुद घर में बनाये तो बिना संकोच के बेझिझक

जितना चाहे उतने गुलाबजामुन खाएं , क्यों की ये घर में बनाने पर बहुत सस्ती कीमत पर बहुत सारे बनते हैं आजकल

मार्किट में तरह तरह के रसगुल्ला पाउडर उपलब्ध हैं जो की सेहत की दृष्टि से बहुत नुकशान देह हैं , गुलाब जामुन

बनाने के लिए सबसे ज़रूरी है खोवा (मावा ) जो मक्खन युक्त और ताज़ा हो , तो आइये सीखते हैं गुलाब जामुन कैसे

बनाये ,

गुलाब जामुन बनाने के लिए आवश्यक सामग्री ,

५०० ग्राम खोवा (मावा ),

५० ग्राम मैदा ,

४०० ग्राम शक्कर ,

१० ग्राम किस मिस ,

एक छोटा चम्मच इलाइची पाउडर ,

५०० ग्राम मीठा तेल ,

गुलाब जामुन बनाने की विधि ,

 

सर्वप्रथम चार सौ ग्राम शक्कर में एक गिलास पानी मिलाकर मध्यम आंच में पकाइये और इस घोल को चम्मच से चलाते

जाइये , जब सीरा थोड़ा गाढ़ा होने लगे तो गैस बंद कर दीजिये , और इसे उतार कर रख दीजिये अब इसमें इलाइची

पाउडर डालकर घोल दीजिये , अब ५०० ग्राम खोवा में ५० ग्राम मैदा मिलाकर अच्छे से मसलिये , और तैयार खोवा की

मध्यम गोलियां बनाइये , इसके बीच में किस मिस डालते जाइये और गोलियां बिलकुल गोल और चिकनी होनी चाहिए

इसमें एक भी धारी न होनी चाहिए , और अब कड़ाही में तेल डालकर मध्यम आंच में गरम करिये अब इसमें खोवा की

गोलियों को सुर्ख लाल होने तक तलिये , और तलने के बाद सीरे में डालते जाइये , और एक चम्मच से डुबोते जाइये

ताकि गोलियां आराम से सीरा पी जाएं और रसगुल्ला अंदर तक नरम हो जाए , १० से १५ मिनिट तक सीरा पीने के बाद

ये रसगुल्ला आपके खाने और खिलाने के लिए तैयार हो जाता है, आप इसे रेफ्रीजिरेटर में रख सकते हैं और कई दिनों

तक आराम से खा सकते हैं ।

one line thoughts about life hindi