दिल को दुखाने के लिए क्या कम था हरजाई ज़माना सारा good morning urdu quotes in hindi,

0
516
दिल को दुखाने के लिए क्या कम था हरजाई ज़माना सारा good morning urdu quotes in hindi,
दिल को दुखाने के लिए क्या कम था हरजाई ज़माना सारा good morning urdu quotes in hindi,

दिल को दुखाने के लिए क्या कम था हरजाई ज़माना सारा good morning urdu quotes in hindi,

दिल को दुखाने के लिए क्या कम था हरजाई ज़माना सारा ,

तूने भी संगदिली में दिलों से रुस्वाइयाँ कर ली ।

 

कभी कभी तो रात थमती है , कभी कभी तो चाँद तारे भी जाग जाते हैं ,

कभी कभी जब ज़िक्र तेरा छिड़ता है , फिर कभी कभी सेहर से पहले शहर को ढूँढ नहीं पाते हैं ।

 

शायरी अब तभी होगी जब मोहब्बत दुबारा से होगी ,

अभी लफ़्ज़ों की बयानी में वही होगा जो हाल ए दिल पर गुज़री होगी ।

 

दिल धड़कता रहा है तेरी सूरत ए दीदार की ख़ातिर ,

यूँ भी नहीं की बिला वजह की धड़कनो में अरमान ही नहीं ।

 

ख्वाहिशों को मंज़िलें दूभर ,

यूँ भी नहीं की आँखों को अब नींद ही नहीं आती ।

bhutiya kahani hindi,

चरागों का जलना लाज़मी है रोशनी के लिए ,

फिर तो दिल ए नाशाद का बुझ जाना भी बहुत मुमकिन है ख़ुदकुशी लिए ।

 

वो कहते हैं शेर ओ शायरी में कहाँ तक दखल है तुम्हारी ,

अमा ये दिलों के मसले हैं इन्हे समझने की कहाँ तक अक़्ल है हमारी ।

 

ज़िन्दगी गुजर गयी ग़मो के साये में ,

हिज़्र ए सहरा में अब न कोई मकान चाहिए ।

 

दिल धड़क रहा है बस सूरत ए यार की ख़ातिर ,

गोया ज़िन्दगी में नहीं और कोई दीदा ए अरमान बाद इसके हैं ।

 

ग़ैर तो ग़ैर थे मेरा दुश्मन मेरा हमसाया था ,

गुनाह इतना था की बस मोहब्बत कर ली हमने ।

 

ग़ैर तो ग़ैर थे अपनों में तमाशायी ही रहा ,

ताउम्र का क़ाफ़िला हर दौर ए मुफ़लिश का जनाज़ा ही रहा ।

 

आजकल ग़ैरों से पता चलता है हाल ए मुक़ाम अपना,

सांस तो चलती हैं मगर दिल की धड़कने महसूस ही नहीं होती ।

shayari hq

शब् ए फ़ुरक़त में मेरी आँखों का चमकना देखो ,

आज भी तेरी मोहब्बत का ही नूर ए नज़र होता है ।

pix taken by google