अमिया अमराई पीहू पीहू गावै कोयलिया कुहू कुहू ,

0
646
अमिया अमराई पीहू पीहू गावै कोयलिया कुहू कुहू ,
अमिया अमराई पीहू पीहू गावै कोयलिया कुहू कुहू ,

अमिया अमराई पीहू पीहू गावै कोयलिया कुहू कुहू ,

अमिया अमराई पीहू पीहू गावै कोयलिया कुहू कुहू ,

तन गीला कैसे धीज धरूँ मैं बिरहन तपती जलती मरू ।

पी पी भांग धतूरा अब तो चम्म हो गए सारे ,

मटका में मट्ठा घुलवाओ कोई निमकी चटवाओ अब तो ।

चौरा मा मेहर चौरा लागै ,

कौखन बीती बात जब तक सास बहू न चालू होइ घेमन है उपवास ।

पूड़ी सोहारी बरा मुगौरा कुसली पपड़ी बनमन चोनमन ,

कबहु बिना तीज त्यौहारौं के बनिहैं ठीक से जेमन ।

ये साल कूलर वुलर न निकाळै का पड़ी का का ,

दऊ बारह मास चौमास मनाये पड़ा है ।

 

https://www.pushpendradwivedi.com/%e0%a4%ab%e0%a4%bc%e0%a4%95%e0%a4%bc%e0%a4%a4-%e0%a4%a6%e0%a5%8b-%e0%a4%b5%e0%a4%95%e0%a4%bc%e0%a5%8d%e0%a4%a4-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%b0%e0%a5%8b%e0%a4%9f%e0%a5%80/

 

अहुड़ बहुड़ घिर आये बदरवा बेशर्मन का लाज़ नहीं ,

खड़ी फसल मा ओला पड़िगै मारे कूटे का कौनौ इलाज़ नहीं ।

भये सकार ढूढे सखार ,

झूले लेहचुआं चुर्र मुर्रा चुर्र मुर्रा राग सुनावै ढुल मुल ढुल मुल ।

नाली नरदा एक कर दिहौ गले मा गमछा डाल ,

अमकरिया न बाची अमारी , पनही सुघावै बाप ।

थाना कोतवाली का तोहरे दुवार मची है गुहार ,

रुण्ड भुसुंड सगळे नौनार , बालम तोरे अगना मा सबहुँ होली खेलें अबकी बार ।

नदी नालन मा डॉक्दर इंजीनियरन के उफानी है ,

गली गली मा किलनी चीलर अस उधान है पियक्कड़ सारे ।

 

https://www.pushpendradwivedi.com/%e0%a4%98%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%97%e0%a4%b2%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%87-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%a6%e0%a5%8c%e0%a4%a1%e0%a4%bc%e0%a4%a4%e0%a4%be-%e0%a4%ac/

 

भये बिहान न कुल्ला मुखारी ,

वोट मागन आ गए सगळे नेता बने भिखारी ।

दूसराये तिसराये सब दीन्हिन बिसराये ,

दीं दुखियन की खातिर कौन खोलीं सराये ।

न उसगुर न पुसगुर दरमियान दिलों के ,

ख़ामोशी का गुर इ माज़रा क्या है ।

नाहक का इल्ज़ाम फोड़े हमरे सर ,

आपै बघारे सेखी खुद चिकनी चुपड़ी चाटै हुमक बाटै बासी रोटी ।

तीरथ बरथ सारे किये मंगल भया न कोय,

मानुस तन की ईस विनय से मंगल मंगल होये ।

जश्न ए महफ़िल में क्या पिपहरी क्या धुतुरुआ ,

बजने दो बीन का सेहरा लिल्लीघोड़ी नचने दो ।

सियारी उन्हारी मसीहाओं के मत्थे ,

यहां क्लब बियारी बिन भबा सकार ।

 

https://www.pushpendradwivedi.com/%e0%a4%95%e0%a5%81%e0%a4%9b-%e0%a4%ab%e0%a5%82%e0%a4%b2-%e0%a4%a5%e0%a5%87-%e0%a4%97%e0%a5%81%e0%a4%b2%e0%a4%b6%e0%a4%a8-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%9c%e0%a5%8b-%e0%a4%96%e0%a4%bf%e0%a4%b2%e0%a4%a8/

 

pixtaken by google