adult romantic sci fi comedy story in hindi the revenge of toad ,

0
541
adult romantic sci fi comedy story in hindi the revenge of toad ,
adult romantic sci fi comedy story in hindi the revenge of toad ,

adult romantic sci fi comedy story in hindi the revenge of toad ,

ट्री फ्रॉग बने रोमी के मन में किटी के साथ घर बसाने के ख्वाब चल रहे थे सम्पूर्ण मिलन के पश्चात अनंत बुलबुलों से सारा तालाब भर जाता है , चरमसुख की सीमाओं को लांघता हुआ जैसे ही रोमी कमल के पत्ते से उछाल मारता है तभी उसके पीछे एक सांप जम्प मारता है पत्तों पर कूदता हुआ रोमी किसी तरह तालाब के किनारे पहुँचता है , तब उसकी जान में जान आती है , एक लम्बी सांस लेने के बाद रोमी को याद आता है किटी के साथ उसका मिलन महज़ दिवास्वप्न था , मगर रोमी आज दिल में ठान लेता है की उसे हर हाल में किटी को हासिल करना है , मगर कैसे इसी सोच में एक बार फिर वो कहीं खो जाता है ,

cut to ,

बेड में दोनों टाँगों के बीच राहुल जाने किस जन्नत की तलाश में लगा हुआ है , तभी किटी चिल्लाती है यू डफर राहुल तुम न एक नंबर के चू,,,,,, हो , तुम्हे लड़की के साथ रोमांस करना नहीं आता सारी रात तुम बस स्कर्ट के अंदर घुसे रहना , राहुल कहता है जस्ट मिनिट यार अभी निकल रहा हूँ , तभी जोजो दरवाज़ा खटखटाता है , किटी कहती है जाओ अब दरवाज़ा खोलो देखो जोजो क्यों प्राण खा रहा है , जोजो दनदनाता हुआ बेड रूम में घुस आता है , किटी कहती है जोजो अब तुम बड़े हो गए हो तुम्हे हमारे बेड रूम इस तरह नहीं चले आना चाहिए , किटी के माता पिता की कार एक्सीडेंट में मौत के बाद जोजो अब किटी और राहुल के साथ ही रहता है , किटी अब राहुल की बीवी बन चुकी थी , और तीनो आराम से राहुल की मम्मी के साथ अपनी ज़िन्दगी बसर कर रहे थे ,

ghost stories in hindi ,

फिर अचानक एक दिन राहुल की मम्मी भी ऊपर वाले को प्यारी हो गयी थी , जोजो अब बड़ा हो चुका था उसकी भी एक

गर्लफ्रेंड थी जिसका नाम था जूली जो देखने बेहद दुबली पतली लड़की थी मगर वो कहते हैं न जब दिल लगाया गधी से तो परी किस काम की , जोजो अब कॉलेज पहुंच चुका था मगर रोमांस के मामले में वो राहुल का भी बाप था , राहुल और किटी सोचते है की जोजो रूम लॉक करके पढ़ रहा होगा , मगर जोजो जूली के साथ किसी और पढ़ाई में ही सारी रात मसरूफ रहता है , इधर विरह की वेदना में जल रहा रोमी राहुल और किटी के बीच रोड़े अटकाने के लिए हर रोज़ नए हथकंडे इख्तियार करता है , और इसी जद्दोज़हद के चलते वो राहुल और किटी के बैडरूम तक पहुंच जाता है , जिस तरह राहुल उसकी पैंट के अंदर घुस कर रोमी को मेढक बना देता है , उसी तरह रोमी भी सोचता है आज मैं इसे मेढक बना दूँगा , और इसी चक्कर में वो राहुल के बॉक्सर में घुस जाता है , रोमांस अपनी चरम सीमा में था उत्तेजना में बॉल्स की जगह रोमी किटी के हाँथ में आजाता है लिसलिसा और चिपचिपा उसे महसूस होता है , किटी कहती है ये क्या आज बिना सुरु किये ही तुम्हारा क्लाइमेक्स हो गया , राहुल कहता है क्या बकवाश कर रही हो , और तभी राहुल को महसूस होता है की जैसे उसके बॉक्सर में कुछ है वो फ़ौरन बॉक्सर उतार फेकता है और तभी बॉक्सर से एक मेढक निकल कर कूदता हुआ खिड़की की तरफ भागता है , किटी कहती है छिः तुम इतने गंदे हो अपनी अंडरवियर में मेढक डाल कर घूमते हो , राहुल हड़बड़ाहट में बोलता है नो नो नो नो नो आई डोंट डू एनी थिंग वो रोमी है , और चप्पल लेकर रोमी की तरफ दौड़ता है मगर कुछ ही पलों में रोमी फुदकता हुआ खिड़की से बाहर कूद जाता है , राहुल ने अभी ज़मीन पर चप्पल रखी ही थी की रोमी एक बार फिर रूम में वापस आजाता है और धमकी देता है राहुल तुमने मेरी मोहब्बत छीनी है मुझसे मैं तुमसे तुम्हारी ज़िन्दगी छीन लूँगा राहुल फेककर चप्पल मारता है और गाली देता हुआ कहता है भाग भोस,,,,, के और चप्पल की मार से बचता बचाता हुआ रोमी एक बार फिर खिड़की से कूद जाता है और इस बार सीधा गटर के होल में जाकर गिरता है , और जब आँख खुलती है तो अपने आपको गंदगी की अनंत गहराइयों में डूबा हुआ पाता है , वो फ़ौरन गटर को पार करता हुआ , अपने गंतव्य की ओर बढ़ चलता है ,

गटर के अपशिष्ट से निकल कर रोमी आज निश्चय करता है वो हर हाल में अपने आपको इस मेढक के रूप से मुक्त कराएगा मगर कैसे , ये बहुत बड़ा सवाल था उसके मन में , वो सारी रात तालाब किनारे लेटा यही सोचता रहा की वो कैसे अपने असली रूप में आ जाये और किटी के साथ वो हनीमून मनाये , अभी शहर की लाइट्स उसकी आँखों में जुगनू की तरह चमक ही रही थी की अचानक , वो लाइट्स तारे बनकर टिमटिमाने लगी रोमी की शैतान खोपड़ी में प्रोफेसर बायोटा का ख़याल आजाता है , प्रोफेसर बायोटा रोमी की ही तरह सैतान खोपड़ी का धनी है , उसके दिमाग में सैतानी फितूर का भंडार है रोमी बायोटा का परम शिष्य है , बायोटा के एक बेटा भी है जिसका नाम है चिगोटा वो बायोटा का भी बाप है , रोमी फ़ौरन बायोटा की लैब की तरफ फुदकता हुआ चल निकलता है , अभी लैब के बाहर पंहुचा ही था की चिगोटा ने गेट से ही लात मार कर भगा दिया टेनिस बाल की तरह लुढ़कता हुआ रोमी बगीचे की झाड़ियों में जा गिरता है , और गाली देता हुआ चिगोटा मेरा बाप जानवरों का वैज्ञानिक है इसका मतलब ये थोड़ी न है की कोई भी ऐरा गैरा मेढक लैब के अंदर घुस जायेगा , इतना बोलता हुआ चिगोटा लैब के अंदर चला जाता है , और कुर्सी पर बैठकर आराम से चॉकलेट खाने में लग जाता है , तभी एक बार फिर लैब के कांच पर उसे एक मेढक बैठा हुआ दिखाई देता है ,

चिगोटा फ़ौरन हाँथ में चप्पल लिए उसको मरने के लिए आग बढ़ता है दरवाज़ा खोलकर जैसे ही वो उसे मारने वाला होता

है मेढक बना रोमी बोल पड़ता है , चिगोटा मैं हूँ रोमी बायोटा सर का परम शिष्य चिगोटा कहता है मैं कैसे मान लूँ तुम रोमी हो , रोमी तो इस शहर से गायब ही हो गया , रोमी कहता है मैं तुम्हे कितनी चॉकलेट लाकर दिया हूँ क्या तुम मेरे साथ एहसान फरामोशी करोगे गुरु भाई हूँ मैं तुम्हारा , मेरे बुरे वक़्त में तुम्हे मेरी मदद करनी चाहिए , तभी चिगोटा की माँ अंदर से आवाज़ लगाती है क्यों जी रात भर दोनों बाप बेटा किस इंसान को जानवर बनाओगे , तुम्हारे बनाये कितने मेढक इल्ली सांप इस गार्डन में घूम रहे हैं जिनको आज तक तुम वापस इंसान नहीं बना पाए , बायोटा कहता है बस दो मिनिट , अभी आया अब चिगोटा की बारी थी , माँ ने चिगोटा को बोला चॉकलेट खाने से अगर पेट न भरा हो तेरा तो घर का खाना भी ठूस लिया बाहर का जंक फ़ूड खा खाकर भैंसा हो गया है और अक़्ल नाम मात्र की भी नहीं है , चार साल से एक ही क्लास में फ़ैल हो रहा है और हाँ सुनो जी अपने लड़के को कह दो ये संजय दत्त वाले बाल कटवा मुझे इसकी हेयर स्टाइल एक भी पसंद नहीं है , चिगोटा रोमी को अपनी जेब में छुपने को बोलता है और अंदर चला जाता है , रात के डिनर के बाद रोमी सोने के लिए चिगोटा के साथ उसके कमरे में चला जाता है , रोमी पहले अपनी सारी आपबीती चिगोटा को सुनाता है ,

maa quotes in urdu , 

रोमी की दर्द भरी दास्तान को सुनकर चिगोटा की आँख और नाक दोनों से पानी के फब्वारे निकल पड़ते हैं , अपनी टी शर्ट को ऊपर करके चिगोटा पोछता हुआ , मेढक बने रोमी को अपने गले से लगा लेता है गले लगकर रोमी को भी अपनेपन का एहसास होता है , रोमी उसकी गर्दन को अपनी जीभ से चाटना सुरु करता है , की तभी चिगोटा की नाक से बह रही पानी की धार रोमी के मुँह में जा गिरती है , रोमी घिना कर चिगोटा की गोद से फ़ौरन टेबल में जाकर बैठ जाता है , चिगोटा कहता है क्या हुआ मेरे भाई तुम्हारे मेढक बनने के बाद पापा पर क्या गुज़री है हमारा परिवार ही जानता है , मेरे पापा बहुत ईमानदार प्रोफेसर थे उन्होंने न जाने कितने लड़कों का भला किया था ये बात तुम्हे भी पता है तुम भी उन्ही में से एक हो रोमी बोलता है हाँ भाई सही बात है मैंने आज तक प्रैक्टिकल की फाइल नहीं तैयार की थी मगर कभी मेरे नंबर गुरु जी के आशीर्वाद से कभी कम नहीं हुए , तभी चिगोटा बोलता है अच्छा तुम्ही बताओ अगर पढ़ाई में कमज़ोर बच्चों को पढ़ाने के एवज़ में मेरे पापा टूशन फीस लेते थे तो कौन सा गुनाह करते थी , फिजिक्स और केमेस्ट्री वाले सर से ये नहीं देखा गया उन्होंने प्रिंसिपल से इसकी शिकायत कर दी , जिसके चलते पापा की जॉब चली गयी , उसी बीच पापा को बायोकैमिकल बनाने वाली एक कंपनी से अनुसंधान के लिए कॉल आया और पापा बायोकैमिकल कंपनी के लिए काम करने में लग गए , रोमी चिगोटा से कहता है मुझे गुरु जी के दर्शन करने है मुझे उनसे मिलना है , चिगोटा कहता है , चलो मैं तुम्हे पापा से मिलवाता हूँ चिगोटा नाईट शूट की जेब में छुपाकर रोमी को प्रोफेसर बायोटा की लैब के लिए रवाना होता है , लैब के अंदर पहुंचते ही बायोटा पूछता है क्या हुआ बच्चे नींद नहीं आ रही है क्या चिगोटा कहता है देखिये पापा मैं किसे लेकर आया हूँ आपके पास , और जेब से मेढक बने रोमी को निकाल कर टेबल में रख देता है , मेढक को देखकर बायोटा बहुत नाराज़ होता है , वो चिगोटा को डांटता हुआ बोलता है , मेरी लैब में आलतू फालतू जानवर लाना वर्जित है क्या तुम्हे नहीं पता नालायक , चिगोटा कहता है ये जानवर नहीं है पापा ये है आपका परम प्रिय शिष्य रोमी है जिसे राहुल ने जाने कैसे मेढक बना दिया ,

बायोटा कहता है किया होगा कुछ गलती इसकी करतूतें भी तो वाहियात किस्म की थी , रोमी प्रोफेसर बायोटा के पैर से लिपट जाता है और दहाड़ मार मार कर रोने लगता है , पैर झिटकते हुए बायोटा उसे दूर फेंक देता है , रोमी और तेज़ तेज़ से रोने लगता है , बायोटा पूछता है आखिर ये रोने की आवाज़ किसकी है चिगोटा रोमी को गोद में उठा लेता है , और बायोटा को बताता है ये रोने की आवाज़ रोमी की ही है पापा , बायोटा चौंककर चूम लेता है और कहता है क्या बात करते हो बोलने वाला मेढक तुम साइंस का नायाब अजूबा हो तुम्हे पाकर मेरी बॉयोकेमेस्ट्री की खोज मुझे कहाँ लेकर जाएगी ये मैं सोच भी नहीं सकता , रोमी एक बार फिर अपने गुरु जी की शरण में चला जाता है ,

part 1…. scifi horror love story , 

दोनों का प्रगाढ़ प्रेम देखकर चिगोटा की आँख ख़ुशी से डबडबा जाती है , मगर चिगोता इस वक़्त नींद की गिरफ्त में है , शायद उसकी किसी गर्लफ्रेंड का फोन आ रहा था , वो रोमी को बोलता है गुरु शिष्य मिलन हो चुका हो तो चलें सोने रोमी कहता है तुम जाओ मैं बहुत दिनों बाद गुरु जी से मिला हूँ , मुझे उनसे ढेर सारी बातें करनी हैं बाय बोलकर अपनी निक्कर सम्हालता हुआ चिगोटा अपने रूम की तरफ दौड़ लगा देता है , चिगोटा के जाते ही बायोटा लैब के सभी दरवाज़े खिड़कियाँ बंद कर देता है , अपने कपडे उतार देता है , चेहरा और हाँथ पाँव को छोड़ कर बायोटा का सारा जिस्म घड़ियाल का बन चुका था , ये कोई अनुवांशिक बीमारी नहीं थी , ये एक आविष्कार का घातक परिणाम था , जिसका एक्सपेरिमेंट बायोटा ने अपने खुद के ऊपर कर लिया था , बायोटा की ये हालत देखकर रोमी हैरान रह जाता है , वो प्रोफेसर से पूछता है गुरु जी ये सब आखिर हुआ कैसे बायोटा कहता है कैसा लगा मेरा एक्सपेरिमेंट बहुत बड़ी बायो केमिकल कंपनी से मुझे बड़ी तगड़ी रकम मिली है इस आविष्कार के लिए , इस अविष्कार के ज़रिये पहले जानवरों के माध्यम से इंसानो में वायरस पहुंचाया जायेगा , और जब सब तबाह होने लगेगा तब बायोकेमिकल कंपनी मनचाहे दामों में इसका एंटीडोज़ बेचेगी , कैसा लगा हमारा प्लान , रोमी कहता है प्लान तो बढ़िया है सर पर जो मैं ये ट्री फ्रॉग बना घूम रहा हूँ इसका भी कुछ इलाज़ सुझाइये , प्रोफेसर बायोटा कहता है तुम चिंतामत करो अभी मैं तुम्हे ट्री फ्रॉग से हिंसक टोड बना देता हूँ और जब जानवरों से इंसान बनाने का फॉर्मूला बन जायेगा मैं तुम्हे वापस रोमी बना दूँगा और दूसरे ही पल एक सीसी से निकाल कर ड्रॉपर से दवाई प्रोफेसर रोमी को पिला देता है और देखते ही देखते रोमी ट्री फ्रॉग से भयानक टोड बन जाता है।

good morning in urdu , 

टोड बनने के बाद रोमी का दिमाग सातवें आसमान में चला जाता है , रोमी प्रोफेसर बायोटा से कहता है दवा बहुत कड़वी थी सर , राहुल तो मेरे पिछवाड़े में घुसकर मुझे ट्री फ्रॉग बना दिया था , बायोटा कहता है वो डॉक्टर चक्रपाणि का नुस्खा था , ये प्रोफेसर बायोटा का फार्मूला है ,जिसे अंडरवर्ल्ड द्वारा पेटेंट कर लिया जायेगा , ओह सर आई लव यू बोलता हुआ रोमी बायोटा की तरफ उछल जाता है , मगर बायोटा दूर रहने की हिदायत देता है , बायोटा कहता है माना की तुम मेरे सबसे अच्छे स्टूडेंट थे , मगर मैं किसी और प्राणी के संपर्क में नहीं आ सकता , मेरे अंदर एंटीडोज़ पल रहे हैं जो बहुत घातक हो सकते हैं जिससे तुम हमेशा के लिए मर भी सकते हो , सॉरी सर बोलता हुआ , फुदकता फुदकता रोमी लैब से बाहर निकल जाता है , और जाकर चिगोटा के रूम में टेबल पर बैठ कर सो जाता है , मगर तभी उसकी नज़र वाल पर टंगे कैलेंडर पर पड़ती है , अरे कल तो १५ जून है और पंद्रह जून को चिगोटा का बर्थडे है , १५ जून १९९३ के ही दिन चिगोटा का जन्म हुआ था और उसी दिन बॉलीवुड की सुपर हिट फिल्म खलनायक भी रिलीज़ हुयी थी , कितना खुश था उस दिन बायोटा जैसे जन्नत की कोई नायाब वस्तु मिल गई थी , बायोटा संजय दत्त का बहुत बड़ा फैन था इसीलिए उसने चिगोटा की हेयर स्टाइल भी संजू बाबा की तरह रखी और चिगोटा आज भी वही हेयर स्टाइल अपनाये हुआ है , इमोशंस में रोमी से रहा नहीं गया और वो ख़ुशी से चिगोटा के ऊपर ही फुदकने लग जाता है , नींद में खलल से चिगोटा बौखला जाता है और रोमी को पकड़ कर खिड़की से बाहर फेंक देता है , गार्डन में रोमी की रात बड़ी खौफनाक गुज़रती है ,

cut to ,

सुबह का वक़्त, चिगोटा की अभी ठीक से आँख भी नहीं खुली थी , की सामने टेबल पर रोमी को बैठा देखकर चिगोटा का सारा मूड ऑफ हो जाता है , तभी रोमी चिल्लाता है हैप्पी बर्थडे ब्रदर चिगोटा कहता है तू मेढक मुझे ब्रदर मत बुला , रोमी कहता है ओके ब्रो चिगोटा कहता है बाई द वे थैंक्स यार एक तू ही तो मेरा दोस्त था जिसे ऊपर वाले ने मेढक बना दिया , रोमी कहताहै तो आज पार्टी होगी , तुम राहुल और किटी को भी इन्वाइट करो आज लूँगा बदला राहुल के बच्चे से , तभी चिगोटा कहता है पहले पल्स पोलियो का डोज तो लेले वरना बना रहना ट्री फ्रॉग का ट्री फ्रॉग , रोमी फ़ौरन बायोटा की लैब की तरफ दौड़ लगाता है और दवाई पीकर वापस आ जाता है , दवाई के बाद रोमी एक खतरनाक टोड का रूप धारण कर लेता है , दिन भर की मस्ती के बाद कमेटी हाल में पार्टी सुरु होती है , पार्टी में राहुल और किटी भी आते हैं , और उनके साथ किटी का भाई जोजो भी आया था , चिगोटा को पाकर जोजो बहुत खुश होता है और लपक की उसे गले लगा लेता है , चिगोटा जोजो की कंपनी में अनकम्फर्टेबल फील करता है क्यों की जोजो वही बंदा है , जिसने चिगोटा की गर्ल फ्रेंड को पटा लिया था , जिससे चिगोटा की जोजो से हमेशा जली रहती थी , मगर वो चाह कर भी जोजो का कुछ नहीं कर सकता है , तभी चिगोटा की गर्लफ्रेंड जूली पार्टी में आधमकती है , और जोजो को देखते ही उससे लिपटकर लिप्स टू लिप्स किश में खो जाती है , तभी चिगोटा की जेब से निकल कर रोमी कहता है बॉस देर किस बात की है , ज़हरीली पिन घुसा दो साले को देखो कैसे भाभी के साथ चूमा चाटी करने में बिज़ी है हरामखोर चिगोटा कहता है रुक मैं कुछ करता हूँ इस कमीने का ,अचानक जोजो की नज़र मेढक बने रोमी पर पड़ती है जोजो कहता है सही है बॉस आखिर बायोलॉजिस्ट के बेटे हो सही दोस्त पकडे हो , बाप डायनासौर से दोस्ती करता है बेटा मेढक की ये बात सुनकर चिगोटा के तनबदन में आग लग जाती है , इधर जोजो अपनी गर्लफ्रेंड को राहुल और किटी से इंट्रोडूस करवाता है , राहुल कहता है इस लंगूर के हाँथ में अंगूर कैसे लग गयी , किटी कहती है जस्ट शट अप भाई है मेरा , राहुल दबी ज़बान में कहता है हाँ वो तो है ही , किटी पूछती है तुमने कुछ कहा क्या , राहुल ने बोला नहीं मेरी कहाँ मजाल , और चुपचाप पार्टी एन्जोय करने में लग जाता है , चिगोटा और रोमी पिन घुसाने की तैयारी में घूम रहे हैं, तभी चिगोटा क़े सामने अचानक जोजो आजाता है , और मौका पाकर चिगोटा जोजो के पिछवाड़े में ज़हरीली पिन चुभो देता है , पिन चुभते ही जोजो बेहोश होने लगता है तभी राहुल की नज़र जोजो पर पड़ती है वो समझ जाता है उसे ज़हर दिया गया है वो फ़ौरन जोजो का स्विमिंग पूल में डाल देता है , ताकि का ज़हर का असर कम हो जाए और एम्बुलेंस को फ़ोन कर देता है , इधर पुलिस और एम्बुलेंस आते है उधर चिगोटा और रोमी पार्टी से ग़ायब हो जाते हैं , पुलिस चिगोटा को क्रिमिनल एक्टिविटीज़ में लिप्त होने के कारण ले जाकर थाने में ठूस देती है ,

best quotes in urdu , 

इधर अपने बेटे को जेल में देखकर बायोटा आग बबूला हो जाता है , किसी तरह जमानत में बेटे को जेल से बाहर

निकलवाता है , मगर अब राहुल से प्रतिशोध की अग्नि प्रोफेसर बायोटा के तन बदन में आग लगा देती है वो हर हाल में राहुल को जान से मारना चाहता है , लेकिन उससे पहले वो सारा गुस्सा चिगोटा और रोमी पर निकालता है , चिगोटा कहता है डैड यू नो वैरी वेल जोजो मेरी गर्लफ्रेंड को पटा लिया है , अब वो मेरे ही सामने मेरी गर्लफ्रेंड को किश करेगा तो मुझे तो बुरा लगेगा ही , तभी रोमी तपाक से बोल पड़ा हाँ और मेरी वाली को भी , प्रोफेसर बायोटा कहता है तुम दोनों के कारण आज शहर भर में मेरी थू थू हो रही है तुम्हे पता है तुम पर पुलिस केस हो गया है , मेरी भी नौकरी जा सकती थी , रोमी कहता है नौकरी की ज़रुरत नहीं है सर आपको मेरे पापा की इतनी दौलत किस दिन काम आएगी , आप अपने एक्सपेरिमेंट्स चालू रखिये , मैं पैसे का बंदोबस्त करूँगा, प्रोफेसर बायोटा कहता है , लेकिन पहले तू इंसान तो बन जा नालायक , रुक अब मैं ही कुछ करता हूँ।

cut to,

स्विमिंग पूल में राहुल और किटी आलिंगन और चुम्बन के साथ मस्त जलक्रीड़ा कर रहे हैं , राहुल के होंठ किटी के अंग प्रत्यंग को चूम रहे हैं राहुल इस तरह से किटी के अंगों के रसास्वादन में लगा है जैसे भंवरा फूल पर तब तक बैठता है जब तक की उसका सारा रस चूस न ले तभी अत्यधिक उत्तेजना से वशीभूत किटी इठलाती हुए राहुल के आगोश से छूटने का असफल प्रयास करती है कामाग्नि में जल रहा राहुल का जिस्म स्विमिंग पूल के पानी में आग लगाने की क्षमता रखता है , इधर दवा की एक सीसी लेकर बायोटा अपनी कार में राहुल के घर की तरफ रवाना होता है , और कार में ही दवा का सारा डोज पी जाता है , और देखते ही देखते मगरमच्छ का रूप धारण कर लेता है , और गेट के नीचे से राहुल के घर में प्रवेश कर जाता है , राहुल और किटी को स्विमिंग पूल में देखकर वो अतयनत प्रशन्न हो जाता है , और फ़ौरन पानी की गहराइयों में पहुंच जाता है , तथा धीरे धीरे राहुल और किटी की तरफ बढ़ना सुरु करता है , उसकी ये सब एक्टिविटीज जोजो सी सी टी वी कैमरा में देख लेता है और फ़ौरन आकर मगरमच्छ को गोली मार देता है , गोली लगते ही बायोटा आधा मगरमच्छ के रूप में आजाता है , पुलिस बायोटा के साथ चिगोटा को एक बार फिर जेल में डाल देती है , और टोड बना रोमी आज भी राहुल और किटी के घर के बगीचे में बदले की भावना लिए घूमता रहता है ,

story in flashback ,

जिस वक़्त राहुल और किटी पर हमला हुआ था दोनों ने प्रोफेसर चक्रपाणि को सारी घटना से अवगत कराया था , और उन्होंने राहुल और किटी को हिदायत दी थी की अब और सावधानी से रहने की ज़रुरत है अगर रोमी बायोटा की शरण में चला गया है , और उसने ये हमला करवाया है तो नेक्स्ट हमला इससे भी खतरनाक होगा तभी से रोमी ने सारे घर के कोने कोने सी सी टी वी कैमरे लगवा दिए थे और जोजो हर वक़्त उसकी निगरानी में रहता था।

pics taken by google ,